Wednesday, August 11, 2021

हार्ट टचिंग दर्द भरी शायरी | Dard Shayari, Status, Quotes | Dard Bhari Shayari

 

 Namaskar doston- Dukh Aur takleef Bhi Hamare Jivan ka hissa Hote Hain Jo Hamen acche bure Sahi galat aur Jindagi Ki kadvi sacchai se Rubaru karate Hain Ham Aksar Kisi Ek shaks par khud se jyada Bharosa karne Lagte Hain 

aur jab Hamen Pata Chalta Hai Ki ki Vahi shaks Hamare sath Dhokha ya Bewafai kar raha Hai To Ham bahut hi Buri Manosthiti se Gujarte Hain 

Us Samay Hamare Dard Ki Koi Seema Nahin Hoti aur Hamare Man Mein Apni Jindagi ko Lekar nirasa ke bhav utpann hone Lagte Hain 

aur aaj ke is post mein Mai Mein Painful Shayari In Hindi per aadharit Best dard bhari shayari ka collection Lekar Aaya hun 

To Chaliye doston pesh hai dard bhari shayari status in hindi

sad dard shayari, quotes, status hindi

shayari, dard bhari zindagi hindi
dard bhari shayari in hindi


Shayari in Hindi

कौन कहता है नफ़रतों मैं दर्द होता है,

कुछ मोहब्बत बड़ी कमाल की होती है।

Shayari in Hinglish

kaun kahata hai nafaraton main dard hota hai, 

kuchh mohabbat badi kamaal ki hoti hai.



तुमने तो कहा था हर शाम तेरा हाल पूछा करेंगे,

तुम बदल गए हो या तुम्हारे शहर में शाम नहीं होती।

tumane to kaha tha har shaam tera haal poochha karenge, 

tum badal gaye ho ya tumhaare shahar mein shaam nahin hoti.



ज़रा सी ज़िंदगी है, अरमान बहुत हैं, 

हमदर्द नहीं कोई, इंसान बहुत हैं, 

दिल के दर्द सुनाएं तो किसको, 

जो दिल के करीब है, वो अनजान बहुत हैं।

zara si zindagi hai, aramaan bahut hain, 

hamadard nahin koi, insaan bahut hain, 

dil ke dard sunaen to kisako, 

jo dil ke kareeb hai, vo anajaan bahut hain.



आँसू भी आते हैं और दर्द भी छुपाना पड़ता है,

ये जिंदगी है साहब यहां जबरदस्ती भी मुस्कुराना पड़ता है।

aansoo bhi aate hain aur dard bhi chhupaana padata hai, 

ye jindagi hai saahab yahaan jabaradasti bhi muskuraana padata hai. 



किताबों के अलावा 

जो चीज सबक देती है,

उसका नाम ज़िन्दगी है।

kitaabon ke alaawa jo

 cheej sabak deti hai, 

usaka naam zindagi hai.



दर्द की शाम हो या सुख का सवेरा हो ,

सब गवारा है मुझे साथ बस तुम्हारा हो।

dard ki shaam ho ya sukh ka savera ho , 

sab gavaara hai mujhe saath bas tumhaara ho. 



अगर वो खुश है देखकर आंसू मेरी आंखों में,

तो रब की कसम हम मुस्कुराना छोड़ देंगे,

तड़पते रहेंगे उसे देखने के लिए,

लेकिन उसकी तरफ नज़रें उठाना छोड़ देंगे।

agar vo khush hai dekhakar aansoo meri aankhon mein, 

to rab ki kasam ham muskuraana chhod denge, 

tadapate rahenge use dekhane ke liye, 

lekin usaki taraph nazaren uthaana chhod denge.



रो पड़ा वो फकीर भी

मेरे हाथों की लकीरें देखकर,

बोला तुझे मौत नही

किसी की याद मारेगी।

ro pada vo fakeer bhi 

mere haathon ki lakeeren dekhakar, 

bola tujhe maut nahi 

kisi ki yaad maaregi. 


dard bhari shayari
Painful Shayari In Hindi


तुम्हें लौटा रहे हैं खत तुम्हारे

 कभी तुम क्या थे... खुद ही देख लेना

tumhen lauta rahe hain khat tumhare 

kabhi tum kya the... khud hi dekh lena.



ख़ुदकुशी हराम है साहब,

मेरी मानो तो इश्क़ कर लो।

khudakushi haraam hai saahab, 

meri maano to ishq kar lo. 



वो रात दर्द और सितम की रात होगी, 

जिस रात रुखसत उनकी बारात होगी, 

उठ जाता हूँ मैं ये सोचकर नींद से अक्सर, 

कि एक गैर की बाहों में मेरी सारी कायनात होगी।

vo raat dard aur sitam ki raat hogi, 

jis raat rukhasat unaki baaraat hogi, 

uth jaata hoon main ye sochakar neend se aksar, 

ki ek gair ki baahon mein meri saari kaayanaat hogi. 



कभी कभी ये क्यों लगता है,

कि तुम मेरी पूरी ज़िन्दगी हो,

और मैं तुम्हारा लम्हा भी नहीं।

kabhi kabhi ye kyon lagata hai, 

ki tum meri poori zindagi ho, 

aur main tumhaara lamha bhi nahin.



सारे जमाने में बंट गया वक्त उनका,

हमारे हिस्से में सिर्फ बहाने ही आए।

saare jamaane mein bant gaya vakt unaka, 

hamaare hisse mein sirf bahaane hi aaye.



पलकों में आंसू और, दिल में दर्द सोया है।

हंसने वालों को क्या पता? रोने वाला किस कदर रोया है।

palakon mein aansoo aur, dil mein dard soya hai. 

hansane walon ko kya pata? rone vaala kis kadar roya hai.



जीते थे हम भी कभी शान से,

महक उठी थी जिंदगी किसी के नाम से,

मगर फिर गुज़रे उस मुकाम से,

कि नफ़रत सी हो गई मोहब्बत के नाम से।

jeete the ham bhi kabhi shaan se, 

mahak uthi thi jindagi kisi ke naam se, 

magar phir guzare us mukaam se, 

ki nafarat si ho gai mohabbat ke naam se. 



ज़ख्म जब मेरे सीने के भर जाएंगे, 

आंसू भी मोती बन के बिखर जाएंगे, 

ये मत पूछना किसने दर्द दिया, 

वरना कुछ अपनों के सर झुक जाएंगे।

zakhm jab mere seene ke bhar jaenge, 

aanso bhi moti ban ke bikhar jaenge, 

ye mat poochhana kisane dard diya, 

varana kuchh apanon ke sar jhuk jaenge.



एक दिन हम भी कफन ओढ़ जायेंगे,

सब रिश्ते इस जमीन के तोड़ जायेंगे,

जितना जी चाहे सता लो मुझको,

एक दिन रोता हुआ सबको छोड़ जायेंगे।

ek din ham bhi kafan odh jaayenge, 

sab rishte is jameen ke tod jaayenge, 

jitana jee chaahe sata lo mujhako, 

ek din rota hua sabako chhod jaayenge.


dard bhari shayari status in hindi / जिंदगी की दर्द भरी शायरी

dard bhare status
dard bhari shayari status in hindi


एक लड़की है जो भुलाए नहीं भूलती मुझसे 

वरना मैं तो वह लड़का था जो बार-बार 

16 का पहाड़ा भूल जाया करता था 

ek ladaki hai jo bhulaye nahin bhoolati mujhase 

varana main to vah ladaka tha jo baar-baar 

16 ka pahaada bhool jaaya karata tha



जो सह रहा है,

बस…वही जानता है, 

कि वो किस दर्द में है।

jo sah raha hai, 

bas…vahee jaanata hai, 

ki vo kis dard mein hai.



फिर यूं हुआ की सब्र की 

ऊँगली पकड़कर हम,

इतना चले की रास्ते हैरान रह गए।

phir yun hua ki sabr ki 

ungali pakadakar ham, 

itana chale ki raaste hairaan rah gaye. 



बिछड़ के तुमसे ज़िन्दगी सज़ा लगती है,

ये सांस भी जैसे मुझसे ख़फ़ा लगती है,

अगर उम्मीद-ए-वफ़ा करूँ तो किससे करूँ,

मुझको तो मेरी ज़िंदगी भी बेवफा लगती है।

bichhad ke tumase zindagi saza lagati hai, 

ye saans bhi jaise mujhase khafa lagatee hai, 

agar ummeed-e-vafa karoon to kisase karoon, 

mujhako to meri zindagi bhi bewafa lagati hai. 



टूट जायेगी तुम्हारी

जिद की आदत भी उस दिन,

जब पता चलेगा की,

याद करने वाला अब याद बन गया।

toot jaayegi tumhaari 

jid ki aadat bhi us din, 

jab pata chalega ki, 

yaad karane vaala ab yaad ban gaya.



रखी ही नहीं फिर किसी से,

मोहब्बत की आस,

एक तेरी याद ही बहुत है,

जिंदगी भर तडपाने के लिए।

rakhi hi nahin phir kisi se, 

mohabbat ki aas, 

ek teri yaad hi bahut hai, 

jindagi bhar tadapaane ke liye. 



बेताब हम भी थे दर्द जुदाई की कसम,

रोता वो भी होगा नज़रें चुरा चुरा कर।

betaab ham bhi the dard judai ki kasam, 

rota vo bhi hoga nazaren chura chura kar.



उन लोगों का क्या हुआ होगा,

जिनको मेरी तरह गम ने मारा होगा,

किनारे पर खड़े लोग क्या जाने,

डूबने वाले ने किस किस को पुकारा होगा।

un logon ka kya hua hoga, 

jinako meri tarah gam ne maara hoga, 

kinaare par khade log kya jaane, 

doobane vaale ne kis kis ko pukaara hoga.



जब आख़िरी मुलाकात हो तो हंस

कर देख लेना मुझे, क्या पता...

अगली बार तुम हमें कफन में

देखो और मुस्कुरा भी ना पाओ।

jab aakhiri mulaakaat ho to hans 

kar dekh lena mujhe, kya pata... 

agali baar tum hamen kafan mein 

dekho aur muskura bhi na pao.


ALSO READ : attitude shayari, attitude status in hindi चुंनिंदा एटीट्यूड शायरी स्टेटस


dard bhari shayari / बेहद दर्द भरी शायरी

dard shayari
dard bhari shayari


कोई किसी के बिना नहीं मरता 

सब आदत की बात है... 

तुम्हारी छूट गई है हमारी भी छूट जाएगी

koi kisi ke bina nahin marata 

sab aadat kee baat hai... 

tumhaari chhot gai hai hamaari bhee chhot jayegi



तलाश कर मेरी कमी को अपने दिल में,

दर्द हो तो समझ लेना रिश्ता अभी बाकी है।

talaash kar meri kami ko apane dil mein, 

dard ho to samajh lena rishta abhi baaki hai. 



अगर खुदा ने पूछा तो कह देंगे, हुई थी

मोहब्बत, मगर जिससे हुई,

हम उसके काबिल न थे।

agar khuda ne poochha to kah denge,

 hui thi mohabbat, magar jisase hui, 

ham usake kaabil na the. 



जो नजर से गुजर जाया करते हैं,

वो सितारे अक्सर टूट जाया करते हैं,

कुछ लोग दर्द को बयां नहीं होने देते,

बस चुपचाप बिखर जाया करते हैं।

jo najar se gujar jaaya karate hain, 

vo sitaare aksar toot jaaya karate hain, 

kuchh log dard ko bayaan nahin hone dete, 

bas chupchap bikhar jaaya karate hain. 



डालकर आदत बेपनाह मोहब्बत की,

अब कहते हैं, समझा करो वक्त नहीं है।

daalakar aadat bepanaah mohabbat ki, 

ab kahate hain, samajha karo wakt nahin hai. 



हम अपने दर्द का शिकवा तुमसे कैसे करें,

मोहब्बत तो हमने की है तुम तो बेक़ुसूर हो।

ham apane dard ka shikava tumase kaise karen, 

mohabbat to hamane ki hai tum to bequsoor ho. 



दर्द कितना है बता नहीं सकते, 

ज़ख़्म कितने हैं दिखा नहीं सकते, 

आँखों से समझ सको तो समझ लो, 

आँसू गिरे हैं कितने गिना नहीं सकते।

dard kitana hai bata nahin sakate, 

zakhm kitane hain dikha nahin sakate, 

aankhon se samajh sako to samajh lo, 

aansoo gire hain kitane gina nahin sakate. 



तेरी आरज़ू मेरा ख्वाब है, 

जिसका रास्ता बहुत खराब है, 

मेरे ज़ख्म का अंदाज़ा न लगा, 

दिल का हर पन्ना दर्द की किताब है।

teri aarazo mera khwaab hai, 

jisaka raasta bahut kharaab hai, 

mere zakhm ka andaaza na laga, 

dil ka har panna dard ki kitaab hai. 



हम हंसते तो हैं लेकिन सिर्फ

दूसरों को हंसाने के लिए,

वरना ज़ख्म तो इतने हैं कि,

ठीक से रोया भी नही जाता।

ham hansate to hain lekin sirf 

doosaron ko hansaane ke liye, 

varana zakhm to itane hain ki, 

theek se roya bhi nahi jaata. 


ALSO READ : दिल छु लेने वाले लव कोट्स

mohabbat dard bhari shayari / प्यार में दर्द भरी शायरी हिंदी में


dard bhari shayari
Painful Shayari In Hindi


एक उम्र वो थी की जादू में भी यकीन था, 

एक उम्र यह है कि हकीकत पर भी शक है

ek umr vo thi ki jaadu mein bhi yakeen tha, 

ek umr yah hai ki hakeeqat par bhi shak hai



खामोशियाँ कर दें बयां तो अलग बात है,

कुछ दर्द है ऐसे जो लफ़्ज़ों में उतारे नहीं जाते।

khamoshiyan kar den bayaan to alag baat hai, 

kuchh dard hai aise jo lafzon mein utaare nahin jaate. 



इस तरह मिली वो मुझे सालों के बाद,

जैसे हक़ीक़त मिली हो ख्यालों के बाद,

मैं पूछता रहा उस से ख़तायें अपनी,

वो बहुत रोई मेरे सवालों के बाद।

is tarah mili vo mujhe salon ke baad, 

jaise haqeeqat mili ho khyaalon ke baad, 

main poochhata raha us se khataayen apani, 

vo bahut roi mere sawalon ke baad.



मज़ा चख लेने दो उसे गैरों की मोहब्बत का भी,

इतनी चाहत के बाद जो... 

मेरा ना हुआ वो औरों का क्या होगा।

maza chakh lene do use gairon ki mohabbat ka bhi, 

itani chaahat ke baad jo... 

mera na hua vo auron ka kya hoga. 



यह इश्क का जुआ हम भी,

खेल चुके हैं दोस्त,

रानी किसी और की हुई और,

जोकर हम बन गए।

yah ishq ka jua ham bhi, 

khel chuke hain dost, 

rani kisi aur ki hui aur, 

jokar ham ban gaye. 



रोने की सज़ा न रुलाने की सज़ा है,

ये दर्द मोहब्बत को निभाने की सज़ा है,

हँसते हैं तो आँखों से निकल आते हैं आँसू,

ये उस शख्स से दिल लगाने की सज़ा है।

rone ki saza na rulaane ki saza hai, 

ye dard mohabbat ko nibhaane ki saza hai, 

hansate hain to aankhon se nikal aate hain aansoo, 

ye us shakhs se dil lagaane ki saza hai. 



किसी को इश्क़ की अच्छाई ने मार डाला,

किसी को इश्क़ की गहराई ने मार डाला,

करके इश्क़ कोई ना बच सका,

जो बच गया उसे तन्हाई ने मार डाला।

kisi ko ishq ki achchhai ne maar daala, 

kisee ko ishq ki gaharai ne maar daala, 

karake ishq koi na bach saka, 

jo bach gaya use tanhai ne maar daala. 



दिल परेशान रहता है, उनके लिए,

हम कुछ भी नहीं हैं, जिनके लिए।

dil pareshaan rahata hai, unake liye, 

ham kuchh bhi nahin hain, jinake liye. 



एक लफ्ज़ उनको सुनाने के लिए, 

कितने अल्फ़ाज़ लिखे हमने ज़माने के लिए, 

उनका मिलना ही मुक़द्दर में न था, 

वर्ना क्या कुछ नहीं किया उनको पाने के लिए।

ek lafz unako sunaane ke liye, 

kitane alfaaz likhe hamane zamaane ke liye, 

unaka milana hi muqaddar mein na tha, 

varna kya kuchh nahin kiya unako paane ke liye. 


ALSO READ : बेस्ट सैड शायरी इन हिंदी, emotional shayari


shayari dard bhari / सबसे दर्द भरी शायरी हिंदी में

dard bhari shayari in hindi 160
shayari, dard bhari zindagi hindi 


याद उसे भी एक अधूरा अफसाना तो होगा 

कल रास्ते में उसने हमें पहचाना तो होगा

yaad use bhi ek adhoora afasana to hoga 

kal raaste mein usane hamen pahachana to hoga



वो नही आती पर अपनी निशानी भेज देती है,

ख्वाबो में दास्ताँ पुरानी भेज देती है,

उसकी यादों के पल कितने भी मीठे हैं,

मगर कभी कभी आँखों में पानी भेज देती है।

vo nahi aati par apani nishaani bhej deti hai, 

khwabo mein dastan puraani bhej deti hai, 

usakee yaadon ke pal kitane bhi meethe hain, 

magar kabhi kabhi aankhon mein paani bhej deti hai. 



वो नाराज़ हैं हमसे कि हम कुछ लिखते नहीं,

कहाँ से लाएं लफ्ज़ जब हमको मिलते नहीं,

दर्द की ज़ुबान होती तो बता देते शायद,

वो ज़ख्म कैसे दिखाए जो दिखते नहीं।

vo naaraaz hain hamase ki ham kuchh likhate nahin, 

kahaan se layen lafz jab hamako milate nahin, 

dard ki zubaan hoti to bata dete shaayad, 

vo zakhm kaise dikhaye jo dikhate nahin. 



तुम्हें पा लेते तो किस्सा खत्म हो जाता,

तुम्हें खोया है, तो यकीनन कहानी लंबी चलेगी।

tumhen pa lete to kissa khatm ho jaata, 

tumhen khoya hai, to yakeenan kahaani lambi chalegi.



दिल के दर्द छुपाना बड़ा मुश्किल है, 

टूट कर फिर मुस्कुराना बड़ा मुश्किल है, 

किसी अपने के साथ दूर तक जाओ फिर देखो, 

अकेले लौट कर आना कितना मुश्किल है।

dil ke dard chhupaana bada mushkil hai, 

toot kar phir muskuraana bada mushkil hai, 

kisi apane ke saath door tak jao phir dekho, 

akele laut kar aana kitana mushkil hai. 



कितनी अजीब है मेरे अन्दर की तन्हाई भी,

हजारों सपने है...

मगर याद सिर्फ तुम ही आते हो।

kitani ajeeb hai mere andar ki tanhai bhi, 

hajaaron sapane hai... 

magar yaad sirf tum hi aate ho. 



दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता, 

रोता है दिल जब वो पास नहीं होता, 

बर्बाद हो गए हम उसके प्यार में, 

और वो कहते हैं इस तरह प्यार नहीं होता।

dard hai dil mein par isaka ehasaas nahin hota, 

rota hai dil jab vo paas nahin hota, 

barbaad ho gaye ham usake pyaar mein, 

aur vo kahate hain is tarah pyaar nahin hota. 



खुद ही रोए और खुद ही चुप हो गए,

ये सोचकर की कोई अपना होता तो रोने ना देता।

khud hi roye aur khud hi chup ho gaye, 

ye sochakar ki koi apana hota to rone na deta.



मेरे दिल का दर्द किसने देखा है, 

मुझे बस खुदा ने तड़पते देखा है, 

हम तन्हाई में बैठे रोते हैं, 

लोगों ने हमें महफ़िल में हँसते देखा है।

mere dil ka dard kisane dekha hai, 

mujhe bas khuda ne tadapate dekha hai, 

ham tanhai mein baithe rote hain, 

logon ne hamen mahafil mein hansate dekha hai.



आधा ख्वाब, आधा इश्क़, आधी सी है बंदगी,

मेरे हो, पर मेरे नही, कैसी है ये जिंदगी।

aadha khwab, aadha ishq, aadhee si hai bandagi, 

mere ho, par mere nahi, kaisi hai ye jindagi.



वो तो अपने दर्द रो-रो कर सुनाते रहे, 

हमारी तन्हाईयों से आँखें चुराते रहे, 

और हमें बेवफ़ा का नाम मिला, 

क्योंकि हम हर दर्द मुस्कुरा कर छिपाते रहे।

vo to apane dard ro-ro kar sunaate rahe, 

hamari tanhaeeyon se aankhen churaate rahe, 

aur hamen bewafa ka naam mila, 

kyonki ham har dard muskura kar chhipaate rahe.



हमें नही आता अपने दर्द का दिखावा करना,

बस अकेले रोते हैं, और सो जाते हैं।

hamen nahi aata apane dard ka dikhaava karana, 

bas akele rote hain, aur so jaate hain.



प्यार सभी को जीना सिखा देता है

वफा के नाम पर मरना सिखा देता है,

प्यार नहीं किया तो कर के देख लो यारों

जालिम हर दर्द सहना सिखा देता है।

pyaar sabhi ko jeena sikha deta hai 

wafa ke naam par marana sikha deta hai, 

pyaar nahin kiya to kar ke dekh lo yaaron 

jaalim har dard sahana sikha deta hai. 



आँखों में रहा दिल में उतर कर नहीं देखा,

कश्ती के मुसाफिर ने समंदर नहीं देखा,

पत्थर मुझे कहता है मेरा चाहने वाला,

मैं मोम हूँ उसने मुझे छू कर नहीं देखा।

aankhon mein raha dil mein utar kar nahin dekha, 

kashti ke musaafir ne samandar nahin dekha, 

patthar mujhe kahata hai mera chaahane vaala, 

main mom hoon usane mujhe chu kar nahin dekha.



और कितनो से दिल लगाओगे,

और कितनो का दिल दुखाओगे,

किसी रोज किसी के खातिर,

तुम भी तड़पते रह जाओगे।

aur kitano se dil lagaoge, 

aur kitano ka dil dukhaoge, 

kisi roj kisi ke khaatir, 

tum bhi tadapate rah jaogi.



तुमने देखे हैं कभी दर्द को सहते हुए लोग 

भीगी पलकों से “सब अच्छा है” कहते हुए लोग

tumane dekhe hain kabhi dard ko sahte hue log 

bheegi palakon se “sab achchha hai” kahate hue log



गुस्से में भी बात करने का अंदाज नहीं बदलते, 

कुछ लोग तन्हा जी लेते हैं पर यार नहीं बदलते 

gusse mein bhi baat karane ka andaaj nahin badalate, 

kuchh log tanha jee lete hain par yaar nahin badalate 



सजा ये है कि बंजर जमीन हूं मैं 

और...

जुल्म ये है की बारिशों से इश्क हो गया 

saja ye hai ki banjar jameen hoon main aur... 

julm ye hai ki baarishon se ishq ho gaya 



तस्वीरें गवाह है... 

कि गुजरा हुआ कल कभी लौटा नहीं 

चढ़ गई है चादर अब तजुर्बे कि 

वो मासूम सा बचपन कभी लौटा नहीं

tasveeren gawah hai... 

ki gujara hua kal kabhi lauta nahin

 chadh gai hai chaadar ab tajurbe ki 

vo maasoom sa bachapan kabhi lauta nahin



दिल वही लौटना चाहता है 

जहां दुबारा जाना मुमकिन नहीं 

बचपन, मासूमियत, पुराना घर, पुराने दोस्त, 

क्योंकि 

उम्र चाहे जितनी भी हो 

सुना है. दिल पर कभी झुर्रियां नहीं पड़ती

dil vahi lautana chaahata hai 

jahaan dubaara jaana mumakin nahin

 bachapan, maasoomiyat, puraana ghar, puraane dost, 

kyonki umr chaahe jitani bhi ho suna hai. 

dil par kabhi jhurriyaan nahin padati



किंतु, परंतु, लेकिन, यदि, मगर, काश नहीं करते 

साथ निभाने वाले कभी बहानों की तलाश नहीं करते

kintu, parantu, lekin, yadi, magar, kaash nahin karate 

saath nibhaane vaale kabhi bahaanon kee talaash nahin karate 



हल्की सी जिंदगी भारी सा बोझ

 पैदा हुए थे एक बार मर रहे हैं रोज

halki si jindagi bhaari sa bojh 

paida hue the ek baar mar rahe hain roj 



कोई मरेगा तो नहीं मेरे बिना

 दो चार लोग रोएंगे दो-चार दिन

koi marega to nahin mere bina 

do chaar log royenge do-chaar din



हम तेरी मजबूरी समझते समझते

 तेरी असलियत समझ गए

ham teri majaboori samajhate samajhate 

teri asaliyat samajh gaye



ना उसने मनाया ना मैंने कोशिश की

 और... 

बस इसी तरह यह रिश्ता खत्म हो गया

na usane manaaya na mainne koshish ki

 aur... 

bas isee tarah yah rishta khatm ho gaya 



ले करके मेरा नाम मुझे कोसता तो है

 नफरत ही सही पर मुझे सोचता तो है 

le karake mera naam mujhe kosata to hai 

nafarat hee sahi par mujhe sochata to hai



No comments:
Write comment