ज़िंदगी पर दिल छुने वाली 2 लाइन शायरी

dukhi zindgi shayari
best shayari in hindi 

zindagi par 2 line shayari  नमस्कार दोस्तों- कहते हैं कि जिंदगी बहुत हसीन होती है लेकिन जिंदगी हमेशा हसीन नहीं रहती, इसमें सुख और दुख आते-जाते रहते हैं 

लेकिन जिंदगी में कुछ एहसास, कुछ रिश्ते, ऐसे होते हैं जिन्हें याद करके अक्सर हमारी आंखें नम हो जाती है और हम उन लम्हों को फिर से जीना चाहते हैं लेकिन कहते हैं ना कि बीता हुआ वक्त कभी वापस नहीं आता

 जिंदगी में सिर्फ उसकी यादें रह जाती है, आज का पोस्ट भी  zindagi ki yaadein shayari 2 line पर आधारित है तो आइए पढ़ते हैं

 zindagi ki shayari two line



ujale apni yadon ke hamare saath rahne do
जिंदगी पर शेर

उजाले अपनी यादों के हमारे साथ रहने दो,
न जाने किस गली में ज़िंदगी की शाम हो जाए।
                  - बशीर बद्र

           

मोहब्बत में ज़िन्दगी के नुकसान से ना गए,
हम दिल से  तो गए  बस  जान से  ना गए।



धूप में निकलो, घटाओं मैं नहाकर देखो,
जिंदगी क्या है किताबों को हटाकर देखो।



अपनी ज़िन्दगी की बस इतनी सी कहानी है,
कुछ हम खुद बर्बाद हुवे थे और कुछ उनकी मेहरबानी थी।



दर्दो ग़म हिज्रो फ़िराक गौहर हैं हयात के,
बस सकून से जो गुज़र जाये, जिंदगी नहीं।



जो गुज़ारी न जा सकी हम से,
हम ने वो ज़िंदगी गुज़ारी है।
    - जौन एलिया

zindgi ki haqikat shayari image
shayari on zindagi ki haqeeqat images

बस यही दो मसले जिंदगी भर ना हल हुए,
ना नींद पूरी हुई ना ख्वाब मुकम्मल हुए।



अदा हुआ न क़र्ज़ और वजूद ख़त्म हो गया,
मैं ज़िंदगी का देते देते सूद ख़त्म हो गया।



एक सीता की रिफ़ाक़त है तो सब कुछ पास है,
ज़िंदगी कहते हैं जिस को राम का बनवास है।
          - हफ़ीज़ बनारसी



तेरी ज़ुल्फ़ के पेचों-ख़म हैं जिस तरह,
मैंने  ज़िंदगी  बसर  की  है  इस तरह।



रहिये अब ऐसी जगह चलकर जहां कोई न हो,
हम-सुखन कोई न हो और हमजुबां कोई न हो।



zindagi ki sachai image
zindagi sad shayari image

इक हादसे की  तरह जिंदगी  गुज़र गई,
और हम सोचते थे के शौक में बसर की।



खबर नहीं मुझे यह जिन्दगी कहाँ ले जाए,
कहीं ठहर के मेरा इंतज़ार मत करना।
                  - गालिब



उलझने क्या बताऊँ जिंदगी की,
तेरे ही गले लगकर तेरी ही शिकयत करनी है।



ऐ ज़िंदगी क्यूँ करती हो अज़ाब इतने,
मैंने क्या कभी तुझे कुछ कहा है।



जिंदा रखेगा मेरा सुखन मुझे क़यामत तक,
इस जिस्म की मौत से मैं मर नहीं सकता।




इसे भी पढ़े ➨ जिंदगी पर 50 बेहतरीन शायरी
zindagi quotes images in
zindagi quotes images in hindi 

अब भी इक उम्र पे जीने का न अंदाज़ आया,
ज़िंदगी छोड़ दे पीछा मेरा मैं बाज़ आया।
        - शाद अज़ीमाबादी



बहुत पहले से उन क़दमों की आहट जान लेते हैं,
तुझे ऐ ज़िंदगी हम दूर से पहचान लेते हैं।
        - फ़िराक़ गोरखपुरी



ज़िंदगी शायद इसी का नाम है,
दूरियाँ, मजबूरियाँ, तन्हाइयाँ।



ऐ ज़िन्दगी मुझे कुछ  मुस्कुराहटें उधार दे दे,
'अपने, आ रहे हैं मिलने की रस्म निभानी है।



तुम हसरत-ए-जिंदगी  होते तो जी भी  लेते हम,
शर्ते--ज़िंदगी हो तुमसे बिछड़ के मर जाएंगे हम।




zindagi status in hindi font
life status in hindi 2 line

तंग आ चुके हैं कशमकश-ए-ज़िंदगी से हम,
ठुकरा न दें जहाँ को कहीं बे-दिली से हम।
        - साहिर लुधियानवी



अदा हुआ न क़र्ज़ और वजूद ख़त्म हो गया,
मैं ज़िंदगी का देते देते सूद ख़त्म हो गया।
        - फ़रियाद आज़र



एक बाजी के सिवा क्या निकली,
ज़िंदगी भी तो इक जुआ निकली।



छोटी-सी जिंदगी है, तकरार किस लिए,
रहते हो दिलों में फिर दीवार किस लिए।



ज़िन्दगी ने हर पहलू पे परखा है मुझको,
मेरा तजुर्बा तुम्हारे बेहद काम आएगा।



ज़िंदगी तू ने मुझे क़ब्र से कम दी है ज़मीं,
पांव फैलाऊँ तो दीवार में सर लगता है।
             - बशीर बद्र



दर्द हद से गुज़रे तो शायद राहतें भी मिलें,
हमदर्दों ने मगर जीना मुहाल किया हुआ है।




इसे भी पढ़े ➨ बेस्ट 2 लाइन सैड शायरी इन हिंदी
very sad life status in hindi
heart touching sad status in hindi

चंद रोज़ की बस जिंदगानी है,
तेरे इश्क से तौबा क्या करनी।



चला जाता हूं हसता खेलता मौज-ए-हवादिस से,
अगर आसानियां हों ज़िंदगी दुश्वार हो जाए।



ज़िन्दगी के हिसाब किताब भी बड़े अजीब थे,
जब तक हम अज़नबी थे ज्यादा करीब थे।



ज़िन्दगी बदलने के लिए लड़ना पड़ता है,
आसान करने के लिए समझना पड़ता।



ज़िंदगी ज़िंदा-दिली का है नाम,
मुर्दा-दिल ख़ाक जिया करते हैं।



तुझसे मिलके ही तो वजूद में आया हूँ मैं भी,
तुमसे पहले तो ज़िन्दगी गुमराह रही हो जैसे।



मैं सोचता हूँ बहुत ज़िंदगी के बारे में,
ये ज़िंदगी भी मुझे सोच कर न रह जाए।




इसे भी पढ़े ➨ निदा फ़ाज़ली के मशहूर शेर जो आपके दिल में उतर जायेंगे

Post a Comment

0 Comments