Tuesday, January 30, 2024

841+ Best Tanhai Shayari In Hindi | तन्हाई शायरी हिंदी में

Best Tanhai Shayari In Hindi: There come some moments in the journey of life when we feel lonely, this happens only when we love someone and that love betrays us and goes away from us, its memories remain imprinted on our heart and mind. If you are feeling lonely and sad then you can express your feelings by sending Tanha Shayari Status 2 Line in Hindi to your lover, friends etc.

So in today's best post Tanha Shayari, we are presenting for you shayari with HD images and unique content. You read these shayari. We have shared for you Rato ki Tanhai Shayari, Shayari on Tanhai, Tanhai ki Shayari, Tanhai Shayari photo with you. Are staying. We have also provided Tanha Shayari with photos in this post. You can download them.

Best Tanha Shayari In Hindi, Tanhai Shayari, तन्हाई शायरी, Tanhai Shayari Status In Hindi For FB, Tanhai Shayari In Hindi, तन्हाई शायरी हिंदी में, तन्हाई भरी शायरी और स्टेटस, tanhai ki shayari, shayari on tanhai in hindi, sad tanhai shayari, Tanhai shayari in hindi text, Tanhai shayari in hindi for girl

Best Tanhai Shayari In Hindi

Akelapan Shayari, Tanhai Shayari in Hindi
Raat ki tanhai shayari in hindi

दर-ओ-दीवार इतने अजनबी क्यूँ लग रहे हैं 

ख़ुद अपने घर में आख़िर इतना डर क्यूँ लग रहा है 


कितना भी दुनिया के लिए हँस के

जी लें हम रुला देती है फिर भी

किसी की कमी कभी-कभी


दरिया की वुसअतों से उसे नापते नहीं 

तन्हाई कितनी गहरी है इक जाम भर के देख 


तन्हाई की दुल्हन अपनी माँग सजाए बैठी है 

वीरानी आबाद हुई है उजड़े हुए दरख़्तों में 


लोग आज भी तेरे बारे में पूछते है

की कहाँ है वो

मैं बस दिल पर हाथ रख देता हूँ


यादों का इक हुजूम था तन्हा नहीं थी मेरी ज़ात 

ख़ुद-कलामी में हुई तमाम शब उन्हीं से बात 


तन्हाई में मुस्कुराना भी इश्क़ है

और इस बात को सबसे छुपाना भी इश्क़ है


मुझे तन्हाई की आदत है मेरी बात छोड़ें 

ये लीजे आप का घर आ गया है हात छोड़ें 


इक आग ग़म-ए-तन्हाई की 

जो सारे बदन में फैल गई 

जब जिस्म ही सारा जलता हो 

फिर दामन-ए-दिल को बचाएँ क्या 


अपनी तन्हाई में खलल यूँ डालूँ सारी रात

खुद ही दर पे दस्तक दूँ और खुद ही पूछूं कौन

तन्हाई शायरी हिंदी में

tanhai ki shayari,
 shayari on tanhai in hindi

सर बुलंदी मिरी तंहाई तक आ पहुँची है 

मैं वहाँ हूँ कि जहाँ कोई नहीं मेरे सिवा 


तुम से मिले तो ख़ुद से ज़ियादा 

तुम को अकेला पाया हम ने 


ख़्वाब की तरह बिखर जाने को जी चाहता है 

ऐसी तन्हाई कि मर जाने को जी चाहता है 


वो उँगलियों पे गिनते हैं ज़ुल्म जिनका

कुछ हिसाब नही तुम नहीं गम नहीं

शराब नहीं ऐसी तन्हाई का जवाब नही


दिन को दफ़्तर में अकेला शब भरे घर में अकेला 

मैं कि अक्स ए मुंतशिर एक एक मंज़र में अकेला 


खुदा की रहमत में अर्जियां नहीं चलती

दिलो के खेल में खुद गर्जियाँ नही चलती

चल ही पड़े हैं तो ये जान लीजिये हुजुर

इश्क की राह में मन मर्जियां नहीं चलती


अब इस घर की आबादी मेहमानों पर है 

कोई आ जाए तो वक़्त गुज़र जाता है 


आज की रात जो मेरी तरह तन्हा है,

मैं किसी तरह गुजारूँगा चला जाऊंगा

तुम परेशाँ न हो बाब ए करम वा न करो

और कुछ देर पुकारूंगा चला जाऊंगा


हवा की डोर में टूटे हुए तारे पिरोती है 

ये तन्हाई अजब लड़की है सन्नाटे में रोती है 


दिल की तन्हाई को Post बना लेते है

दर्द जब हद से गुजरता हैं

तो Facebook चला लेते हैं


दिल दबा जाता है कितना आज ग़म के बार से 

कैसी तन्हाई टपकती है दर ओ दीवार से 

Akelapan Shayari, Tanhai Shayari in Hindi

Tanhai shayari in hindi for girl
Best Raat ki tanhai shayari in hindi

उतरे जो ज़िन्दगी तेरी गलियों में हम

महफ़िल में रह के भी रहे तन्हाइयो में हम

दीवानगी नहीं तो और किया कहे इसे

इंसान ढूंढते रहे परछाइयों में हम


हम अपनी धूप में बैठे हैं मुश्ताक़

हमारे साथ है साया हमारा 


ख़मोशी के हैं आँगन और सन्नाटे की दीवारें 

ये कैसे लोग हैं जिन को घरों से डर नहीं लगता 


शाम-ए तन्हाई में इजाफा बेचैनी

एक तेरा ख्याल न जाना 

एक दूसरा तेरा जवाब न आना


ये सर्द रात ये आवारगी ये नींद का बोझ 

हम अपने शहर में होते तो घर गए होते 


कोई भी यक़ीं दिल को 'शाद' कर नहीं सकता 

रूह में उतर जाए जब गुमाँ की तन्हाई 


बदनामी के दर से मैं रो भी नहीं पा रहा

तेरी याद के साये में मैं सो भी नहीं पा रहा

सोचा के तुझे भूल कर और किसी को याद करू

पर लाख कोशिशों के बावजूद मैं किसी और

के ख्यालो में खो भी नहीं पा रहा


मिरे वजूद को परछाइयों ने तोड़ दिया 

मैं इक हिसार था तन्हाइयों ने तोड़ दिया 

तन्हाई शायरी 

हमारे चले जाने के बाद ये समुंदर भी पूछेगा तुमसे

कहा चला गया वो शख्स जो तन्हाई मे आ कर

बस तुम्हारा ही नाम लिखा करता था


ये भी शायद ज़िंदगी की इक अदा है

दोस्तों, जिसको कोई मिल गया वो

और तन्हा हो गया


बना रक्खी हैं दीवारों पे तस्वीरें परिंदों की 

वगर्ना हम तो अपने घर की वीरानी से मर जाएँ 

Raat ki Tanhai Shayari in Hindi

sad tanhai shayari
Tanhai shayari in hindi text

मेरा कर्ब मिरी तन्हाई की ज़ीनत 

मैं चेहरों के जंगल का सन्नाटा हूँ 


तन्हाई की ये कौन सी मंज़िल है रफ़ीक़ो 

ता-हद्द-ए-नज़र एक बयाबान सा क्यूँ है 


कुछ कर गुजरने की चाह में कहाँ-कहाँ से गुजरे,

अकेले ही नजर आये हम जहाँ-जहाँ से गुजरे


लोगों ने छीन ली है मेरी तन्हाई तक

इश्क आ पहुँचा है इलज़ाम से रुसवाई तक


बता दो मुझे ज़रा की मेरा तुम्हे

चाहना गलत है क्या 

क्यों नहीं बन रही बात अपनी

किसी और से मोहब्बत है क्या


अपने होने का कुछ एहसास न होने से हुआ 

ख़ुद से मिलना मिरा इक शख़्स के खोने से हुआ

Tanhai Shayari in Hindi Text

जम्अ करती है मुझे रात बहुत मुश्किल से 

सुब्ह को घर से निकलते ही बिखरने के लिए 


इंतज़ार की आरज़ू अब खो गयी है

खामोशियो की आदत हो गयी है

न शिकवा रहा न शिकायत किसी से

अगर है तो एक मोहब्बत

जो इन तन्हाइयों से हो गई है


वक़्त बहुत कुछ चीन लेता है

खैर मेरी तोह सिर्फ मुस्कराहट

खुशियां और रातों की नींद थी


इश्क़ मैं तो हर तरफ सिर्फ तन्हाई का साया है

मोहब्बत मैं तो सिर्फ कुछ लोगों ने ही

सच्चा प्यार पाया है

Tanhai Shayari - तन्हाई शायरी

तन्हाई शायरी हिंदी में - Tanhai Shayari is taken from Hindi Urdu poetry. In which you can read "Tanhai Shayari in Hindi For Girlfriend/Boyfriend, Best Tanha Shayari In Hindi, Tanhai Shayari, Tanhai Shayari, Tanhai Shayari Status In Hindi For FB" Unique collection of Tanhai Shayari Tanhai Shayari 2 Lines. 

As it is truly said that there is only one home for a broken heart and that is loneliness, where a person sits and applies balm to his broken heart. Because a broken heart has someone close to him, it is only loneliness.

Friends, today's post is for those lovers who lost in love, who were left alone by love and fell in love with loneliness. So why are you late, let's start with today's post of Tanhai Shayari in Hindi Font. I hope this post will give a voice to your loneliness with its wonderful words. 

Tanhai Shayari Status In Hindi For FB
 Tanhai Shayari In Hindi

तन्हाई में करनी तो है इक बात किसी से 

लेकिन वो किसी वक़्त अकेला नहीं होता 


इस बुलंदी पे बहुत तन्हा हूँ 

काश मैं सब के बराबर होता 


तन्हाई ना पाए कोई साथ के बाद

जुदाई ना पाए कोई मुलाकात के बाद

ना पड़े किसी को किसी की आदत इतनी

कि हर सांस भी आए उसकी याद के बाद


उन की हसरत भी नहीं मैं भी नहीं दिल भी नहीं 

अब तो बेख़ुद है ये आलम मिरी तंहाई का 


कुछ इस तरह तेरे दिल के करीब आते गए

हम तन्हाइयो के और भी नजदीक जाते गए 


वो हर बार मुझे छोड़ के चले जाते हैं तन्हा

मैं मज़बूत बहुत हूँ लेकिन कोई पत्थर तो नहीं हूँ


तुम नहीं अब जहाँ में तनहा से हैं

हम यहाँ बुला लो मुझे अपने जहाँ में

दे न पाव तन्हाई का इम्तेहान


गो मुझे एहसास ए तन्हाई रहा शिद्दत के साथ 

काट दी आधी सदी एक अजनबी औरत के साथ 


किस क़दर बद नामियाँ हैं मेरे साथ 

क्या बताऊँ किस क़दर तन्हा हूँ मैं 


कई दर्द छिपे है सीने मैं मगर

तेरी एक मुस्कान अधूरी सी लगती है

अब तो बिन तेरे ना जाने क्यों

हर शाम अधूरी सी लगती है 

Tanhai Shayari Status In Hindi For FB

Rato ki Tanhai Shayari
 Shayari on Tanhai

तन्हाई की आग में कहीं जल ही न जाऊँ

के अब तो कोई मेरे आशियाने को बचा ले


कितनी अजीब है मेरे अंदर की तन्हाई भी

हज़ारों अपने है मगर याद तुम ही आते हो


अब तो उन की याद भी आती नहीं 

कितनी तन्हा हो गईं तन्हाइयाँ 


पुकारा जब मुझे तन्हाई ने तो याद आया 

कि अपने साथ बहुत मुख़्तसर रहा हूँ मैं 


अब तो हसरत ही नहीं रही

किसी से वफ़ा पाने की दिल इस क़दर

टूटा है की अब सिर्फ तन्हाई अच्छी लगती 


अपनी मुस्कान पर सारे दर्द छिपा जाते है

वो इशारो पर हर वक़्त हमारे छा जाते है

फिर भी वो मेरे दिल के दर्द को पढ़ नही पाते है 


कुछ देर बैठी रही पास, और फिर

उठ कर चली गई गुरुर तो देखो तन्हाई

का ये भी बेवफ़ा हो कर चली गई


हिज्र ओ विसाल चराग़ हैं दोनों तन्हाई के ताक़ों में 

अक्सर दोनों गुल रहते हैं और जला करता हूँ मैं 


जो रूह की तन्हाई होती हैं ना

उसको कोई ख़त्म नही कर सकता


सहारा लेना ही पड़ता है मुझको दरिया का

मैं एक कतरा हूँ तनहा तो बह नहीं सकता


देख कभी आ कर ये ला-महदूद फ़ज़ा 

तू भी मेरी तन्हाई में शामिल हो 

Also Read😍👇

Best Yaad Shayari 2 Lines 

Nafrat Shayari in Hindi

Best Broken Heart Shayari in Hindi

Tanhai Shayari In Hindi 

Tanhai ki Shayari
Tanhai Shayari 

बिछड़ने का गम हमे मालूम हुआ

कि तन्हाई भी कोई चीज है

फरियाद ज़िन्दगी की हम

उनकी महफ़िल मैं गुजार आये 


भीड़ के ख़ौफ़ से फिर घर की तरफ़ लौट आया 

घर से जब शहर में तन्हाई के डर से निकला 


तन्हाई से तँग आकर हम मोहब्बत की तलाश मैं निकले थे

लेकिन मोहब्बत ऐसी मिली कि तनहा कर गयी


नई नहीं है ये तन्हाई मेरे हुजरे की 

मरज़ हो कोई भी है चारागर से डर जाना 


मांगी थी थोड़ी सी जगह उनके दिल मैं रहने को

पर उन्होंने तो मुसाफिरो की तरह

तन्हाइयो का शहर ही अपने नाम कर दिया

तन्हाई शायरी हिंदी में

शायद इसी को कहते हैं मजबूरी-ए-हयात

रुक सी गयी है उम्र-ए-गुरेजां तेरे बगैर


इतने घने बादल के पीछे 

कितना तन्हा होगा चाँद 


कुछ तो तन्हाई की रातों में सहारा होता 

तुम न होते न सही ज़िक्र तुम्हारा होता 


इश्क़ के नशे डूबे तो ये जाना हमने फ़राज़

की दर्द में तन्हाई नहीं होती तन्हाई में दर्द होता है


ये खुदा लौटा दे वो पुराने मौसम यादो भरी हवाओ का

लौट के ना आये कभी ये मौसम तन्हाई का 


कहीं पर शाम ढलती है कहीं पर रात होती है

अकेले गुमसुम रहते हैं न किसी से बात होती है

तुमसे मिलने की आरज़ू दिल बहलने नहीं देती

तन्हाई में आँखों से रुक-रुक के बरसात होती है

Tanhai Shayari in Hindi for Girl

Tanhai Shayari For Instagram
 Tanhai Shayari Status In Hindi For FB

मिरे घर में तो कोई भी नहीं है 

ख़ुदा जाने मैं किस से डर रहा हूँ 


मुश्किल की घडी जहन में उनका

नाम आता है जमाना छोड़ देता है

जब भी वो काम आता है


गलतियां की थी मेने पर इतनी भी बड़ी नहीं 

जितनी बड़ी सजा मिल रही है


बस कुछ पल के लिए बनकर एहसास

चले आते हो तुम

अगले ही पल बनकर ख्वाब उड़ जाते हो तुम

डर लगता है अब हमें तन्हाइयो से

फिर भी हर बार  हमे तन्हा छोड़ जाते हो तुम 


एक महफ़िल में कई महफ़िलें होती हैं शरीक 

जिस को भी पास से देखोगे अकेला होगा 


इस तन्हाई का हम पे बड़ा एहसान है

साहब न देती ये साथ अपना तो जाने हम किधर जाते.


चाहे राधा हो या हो मीरा

सबके हिस्से में आई ये तन्हाई


कितने चेहरे कितनी शक्लें फिर भी तन्हाई वही 

कौन ले आया मुझे इन आईनों के दरमियाँ 


रास्ते कितने भी मखमली क्यों ना हो मोहब्बत के

लेकिन खत्म वहां होते है जहाँ तन्हाई के खंडर है


तन्हाइयाँ तुम्हारा पता पूछती रहीं 

शब-भर तुम्हारी याद ने सोने नहीं दिया 


ज़िंदगी यूँ हुई बसर तन्हा 

क़ाफ़िला साथ और सफ़र तन्हा 

Tanhai Shayari in Hindi for Boy

Tanha Shayari: Hello friends, as always, today again I am here with a new post for you whose title is shayari on tanhai in hindi, sad tanhai shayari, Tanhai shayari in hindi text, Tanhai shayari in hindi for girl. Loneliness is such a situation, condition, condition of our mind which makes us feel lonely and it is not necessary here.

That you are lonely means that you are lonely. Friends, these words of love, love and affection sound very good but if you come face to face with them then you will come to know that it is not easy to live them. A person can feel lonely even after being surrounded by everyone, especially when someone cheats in love, then the heart gets broken.

And then it becomes difficult to control oneself. So if you too have experienced loneliness in love, then you will definitely like this post Tanhai Shayari Hindi, Tanhai Shayari Status In Hindi For FB. If you like it, please share it with your friends.

Best Tanha Shayari In Hindi
Tanhai Shayari

ज़माना सिर्फ कहने को अपने साथ है

मगर दिल मे छुपके से एक तन्हाई पलती है 


तेरा पहलू तेरे दिल की तरह आबाद रहे,

तुझपे गुजरे न क़यामत शब-ए-तन्हाई की


शहर बड़ा है लेकिन इंसान 

एक ही कमरे में कैद है


मेरी कमी बताने वाले खुद की कमी

तोह देखो तुम जो आइना मुझे दिखा

रहे हो वो खुद भी कभी देखो तुम


तेरी तन्हाई से अच्छा तेरी बेवफाई है

कम से कम तुझसे नफरत करने के लिए

याद करने की वजह तो है


चाँद तन्हा है आसमाँ तन्हा 

दिल मिला है कहाँ कहाँ तन्हा 


मेरी यादें मेरा चेहरा मेरी बातें रुलायेंगी,

हिज़्र के दौर में गुज़री मुलाकातें रुलायेंगी

दिनों को तो चलो तुम काट भी लोगे फसानों में

जहाँ तन्हा मिलोगे तुम तुम्हें रातें रुलायेंगी


ये कैसा क़ाफ़िला है जिस में सारे लोग तन्हा हैं 

ये किस बर्ज़ख़ में हैं हम सब तुम्हें भी सोचना होगा 


कोई दिल से सुनता नहीं इसीलिए 

हम भी किसी से कुछ कहते नहीं


यादों में आपके तनहा बैठे हैं,आपके

बिना लबों की हँसी गँवा बैठे हैं

आपकी दुनिया में अँधेरा ना हो

इसलिए खुद का दिल जला बैठे हैं

Also Read😍👇

 गम भरी शायरी हिंदी 

Tanhai Status In Hindi For FB & Whatsapp  

तन्हाई भरी शायरी और स्टेटस

Tanhai Shayari Status In Hindi For FB
Tanhai Shayari In Hindi

उदासियाँ हैं जो दिन में तो शब में तन्हाई 

बसा के देख लिया शहर ए आरज़ू मैं ने 


अकेले मैं उनके बिना रहने की जब भी बात आयी

साथ उनके बिताए हर एक पल

यादो मैं दौड़े दौड़े चले आयी


तेरे बिना ये कैसे गुजरेंगी मेरी रातें

तन्हाई का गम कैसे सहेंगी ये रातें

बहुत लम्बी हैं ये घड़ियाँ इंतज़ार की

करवट बदल-बदल के कटेंगी ये रातें


कोई भी घर में समझता न था मिरे दुख सुख 

एक अजनबी की तरह मैं ख़ुद अपने घर में था 


परछाई के अलावा कोई और 

हमारे साथ चले ये हमें मंज़ूर नहीं


उनके जाने के बाद तन्हाई का सहारा मिला है

इसकी आगोश में आये फिर निकलना नही आया.


धूप वक़्त की अपने आप सूखा जायेगी

तन्हाई मैं गिरे मेरे आँशुओ को


जगमगाते शहर की रानाइयों में क्या न था

ढूँढ़ने निकला था जिसको बस वही चेहरा न था

हम वही, तुम भी वही, मौसम वही, मंज़र वही

फ़ासले बढ़ जायेंगे इतने मैंने कभी सोचा न था


सारी दुनिया हमें पहचानती है 

कोई हम सा भी न तन्हा होगा 


कोसते रहते हैं अपनी जिंदगी को उम्रभर

भीड़ में हंसते हैं मगर तन्हाई में रोया करते हैं


दूसरा कोई गम नही ज़िन्दगी मैं सिर्फ

तेरी एक जुदाई के सिवा

कुछ नही मिला ज़िन्दगी मैं सिर्फ

तेरी तनहाई के सिवा

Tanhai Shayari In Hindi 2 Lines

shayari on tanhai in hindi

तू ना निभा सकी तो क्या मै अपनी मोहब्बत

को अंजाम दूंगा तुझसे मिलना ना हुआ नसीब

में तो क्या हुआ मै अपनी औलाद को तेरा नाम दूंगा।


करोड़ों की तरह हम भी उनके एक आशिक़ है, 

उनके बिना ही है लेकिन 

उनकी यादों के साथ मुकम्मल है


शहर की भीड़ में शामिल है अकेलापन भी 

आज हर ज़ेहन है तन्हाई का मारा देखो 


मैं हूँ दिल है तन्हाई है 

तुम भी होते अच्छा होता 


तेरे दूर जाने का गम

अब तो सांसे भी लगती है बोझ सी

कैसे तुम्हे बताए अब ये धड़कन की

आवाज भी लगती है शोर सी 


चलते-चलते अकेले अब थक गए हम

जो मंज़िल को जाये वो डगर चाहिए

तन्हाई का बोझ अब और उठता नहीं

अब हमको भी एक हमसफ़र चाहिए


तन्हाई के लम्हात का एहसास हुआ है 

जब तारों भरी रात का एहसास हुआ है 


आजकल वो सड़क भी तनहा हो गई

जब से तुम ने वहां से गुज़रना बंद कर दिया


मेरी तन्हाई को मेरा शौक न समझना

बहुत प्यार से दिया है ये तोहफा किसी ने


खुदा कभी किसी को किसी पर

इतना फिदा भी ना करे

करे तो आखरी सांस तक फिर जुदा ना करे

माना कि मरता नही कोई जुदाई मैं

मगर वो जिये भी तो कैसे तन्हाई मैं 

Also Read😍👇

Shayari on Tanhai in Hindi

sad tanhai shayari
Tanhai shayari in hindi text

तन्हाई का उसने मंज़र नहीं देखा

अफ़सोस की मेरे दिल के अन्दर नहीं देखा

दिल टूटने का दर्द वो क्या जाने

वो लम्हा उसने कभी जी कर नहीं देखा


तन्हाई से आती नहीं दिन रात मुझे नींद 

या रब मिरा हम ख़्वाब ओ हम आग़ोश कहाँ है 


तिरी यादों से महका है मेरी तन्हाई का आलम 

क़यामत तक इन्हीं तन्हाइयाँ में डूबना चाहूँ 


मुझे तन्हाई की आदत है

मेरी बात छोडो, तुम बताओ कैसी हो


खौफ अब खत्म हुआ सबसे जुदा होने का

अपनी तन्हाई में हम अब मसरूफ बहुत रहते हैं


आग ऐसी थी तन्हाई की, की मेरा घर जला दिया

भीड़ तो बहुत थी धुँवा देखने वालों की

मगर कोई दो  बूंद पानी का ना ला दिया 


किसी को प्यार की सच्चाई मार डालेगी

किसी को दर्द की गहराई मार डालेगी

मोहब्बत में बिछड़ के कोई जी नहीं सकता

और बच गया तो उसे तन्हाई मार डालेगी


मेरी तन्हाई को मेरा शौक न समझना,

बहुत प्यार से दिया है ये तोहफा किसी ने

भीड़ तन्हाइयों का मेला है 

आदमी आदमी अकेला है 


अपने होने का कुछ एहसास न होने से हुआ

ख़ुद से मिलना मिरा इक शख़्स के खोने से हुआ

Sad Tanhai Shayari

Today we have brought for you Tanhai Par shayari, Tanhai shayari in Hindi, Tanhai Shayari, Loneliness is such a state, condition, condition of our mind which makes us feel lonely and here it is not necessary that you are lonely. It means that you are lonely, a person can be lonely even after being surrounded by everyone around him and at this time, some poets write some poetry from their inner heart, so today we have brought some special poetry on loneliness for you. 

Tanhai shayari for facebook
Rato ki Tanhai Shayari

साथ रहा तू मेरे और मेरी तन्हाई मैं

कोई शिकायत नही तुझसे की

तूने वफाई नही की

इतना काफ़ी है की शामिल है 

तू मेरी तबाही मैं


कुछ सोचो तो तेरा ख्याल आता है

कुछ बोलूं तो तेरा नाम आता है

काब तक छुपाऊ में अपने दिल की बात

उस की हार अदा पे हमें प्यार आता है


दे हौसले की दाद के हम तेरे ग़म में आज 

बैठे हैं महफ़िलों को सजाए तिरे बग़ैर 


हम अंजुमन में सब की तरफ़ देखते रहे 

अपनी तरह से कोई अकेला नहीं मिला 


गुजर जायेगा ज़माना तेरी याद नही गुजरती

ना चाहकर भी ज़ख्म रोज मिल जाते है


किस से कहु अपनी तन्हाई का आलम

लोग चेहरे के हसी देखए बहुत खुश समझते हैं


मैं तन्हाई को तन्हाई में तनहा कैसे छोड़ दूँ 

इस तन्हाई ने तन्हाई में तनहा मेरा साथ दिए है


मतलब की दुनिया थी इसलिए चोर दिया 

सबसे मिलना वरना ये छोटी सी 

उम्र तन्हाई के क़ाबिल न थी


मकाँ है क़ब्र जिसे लोग ख़ुद बनाते हैं 

मैं अपने घर में हूँ या मैं किसी मज़ार में हूँ 


मेरी जुदाई को इस ज़माने मैं ना देख पाया कोई

मेरे सिवा बैठ कर तनहाई मैं ना रोया होगा कोई

Tanhai Shayari in Hindi Text

Shayari on Tanhai
Tanhai ki Shayari
ग़म ओ नशात की हर रहगुज़र में तन्हा हूँ 

मुझे ख़बर है मैं अपने सफ़र में तन्हा हूँ 


यादों की अर्थी तन्हाई का क़फ़न गम का तकिया,

इंतज़ार तो सब हो गया बस नींद का आना बाक़ी हैं


थकन टूटन उदासी ऊब तन्हाई अधूरापन

तुम्हारी याद के संग इतना लम्बा कारवाँ क्यूँ है


तन्हाईयाँ कुछ इस तरह से डसने लगी मुझे

मैं आज अपने पैरों की आहट से डर गया


तन्हा रह कर भी कभी मुस्करा जाते है

गम मिले तो उसे भी पी जाते है 


तेरे जल्वों ने मुझे घेर लिया है ऐ दोस्त 

अब तो तन्हाई के लम्हे भी हसीं लगते हैं 


मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता बारे में 

क्या सोचते हैं बस मेरा खुदा जनता है 

की मेने कभी किसी का बुरा नहीं चाहा है


ए मेरे दिल कभी तीसरे की उम्मीद भी ना किया कर

सिर्फ तुम और मैं ही हैं इस दश्त ए तन्हाई में


बड़ा दर्द देती है तेरी तन्हाई

जिस्म मैं आग सी लगा जाती है

कोई तो वजह दे मुस्कराने की

मैं रोता हु तो रोती है मेरी तन्हाई 


काव काव ए सख़्त जानी हाए तन्हाई न पूछ 

सुब्ह करना शाम का लाना है जू ए शीर का 


मैंने तन्हाई में हमेशा तुम्हे पुकारा है

सुन लो गौर से ऐ सनम तेरे बिना

ज़िंदगी अधूरी सी लगती है

तन्हाई शायरी 2 लाइन

Tanhai Shayari For Girl
Tanhai Shayari For Boy

रिश्ते छूट रहे हैं लोगों को परवाह नहीं है

मोबाइलों के अलावा कहीं निगाहें नहीं है

सामने बैठकर घंटों मोन रहते है यूँ तो

रिप्लाई आये ना तो चेहरे पे लाह नहीं है


गम भी बहुत है जिंदगी में

फिर भी खुश रहने का बहाना चाहिए

यह बड़ी-बड़ी इमारते हमे मत दिखाओ

हमे तो बस गंगा का किनारा चाहिए


यादों के शबिस्तान में बैठा हुआ साइल 

तन्हा जो नज़र आता है तन्हा नहीं होता 


सुकून से तेरी तस्वीर देख कर खुद को

महफूज़ कर लेते है

तन्हाई मैं जब भी तेरी याद आये

तुझे महसूस कर लेते है 


इक सफ़ीना है तिरी याद अगर 

इक समुंदर है मिरी तन्हाई 


सुब्ह तक कौन जियेगा शब ए तन्हाई में 

दिल ए नादाँ तुझे उम्मीद ए सहर है भी तो क्या 


कितनी अजीब है इस शहर की तन्हाई भी

हजारों लोग हैं मगर कोई उस जैसा नहीं है


इस तरह हम सुकून को महफूज़ कर लेते हैं,

जब भी तन्हा होते हैं तुम्हें महसूस कर लेते हैं


जिंदगी का राग पुराना याद आया

आज गुजरा हुआ जमाना याद आया

थम सी गई जिंदगी खयालो की बदहाली मे

वो रंग और गम मुझको दोबारा याद आया


मैं सोते सोते कई बार चौंक चौंक पड़ा 

तमाम रात तिरे पहलुओं से आँच आई 


सिमटती फैलती तन्हाई सोते जागते दर्द 

वो अपने और मिरे दरमियान छोड़ गया 

Also Read😍👇

दर्द ए तन्हाई शायरी

Tanhai Shayari In Hindi | तन्हाई शायरी हिंदी में: Hello friends, like always, today again there is a new post for you whose title is Tanhai Shayari. Friends, these words of love, love and affection sound very good but if you come face to face with them then you will come to know that it is not easy to live them. Especially when someone cheats in love, then the heart gets broken and then it becomes difficult to control oneself.

So if you too have experienced loneliness in love, then you will definitely like the Tanhai Shayari Hindi of this post. 

Best Tanhai Shayari For Girl
 Best Tanhai Shayari For Boy

रात की तन्हाई मैं तो हर

कोई याद कर लेता है

सुबह उठा ते ही जो याद आये

मोहब्बत उसे कहते हैं


दश्तए तन्हाई में जीने का सलीक़ा सीखिए 

ये शिकस्ता बाम ओ दर भी हम सफ़र हो जाएँगे 


हर वक़्त का हँसना तुझे बर्बाद ना कर दे,

​तन्हाई के लम्हों में कभी रो भी लिया कर


वो पूछते है हमसे मुश्किले बहुत है

जिंदगी की राहो में क्या चल पाओगे तुम

कांटो से भरी राहो में


तन्हाई में नींद नहीं आती हमे गुज़र जाती है 

हर रात किसी को याद करते करते


आज मौसम भी कुछ उदास मिला 

आज तन्हाई भी अकेली है 


कांटो सी दिल में चुभती है तन्हाई

अंगारों सी सुलगती है तन्हाई

कोई आ कर हमको जरा हँसा दे

मैं रोता हूँ तो रोने लगती है तन्हाई


मैं तो तन्हा था मगर तुझ को भी तन्हा देखा 

अपनी तस्वीर के पीछे तिरा चेहरा देखा 


तुझ पे खुल जाती मेरे रूह की तन्हाई भी,

मेरी आँखों में कभी झांक के देखा होता


किसी हालत में भी तन्हा नहीं होने देती 

है यही एक ख़राबी मिरी तन्हाई की 


तेरा साथ है हमसे कुछ इस तरह छोड़कर जाना

मानो जैसे नदियो का बिन पानी के सुखा रह जाना

रोमांटिक तन्हाई शायरी

Best Shayari on Tanhai
Best Tanhai ki Shayari

तन्हाइयों को सौंप के तारीकियों का ज़हर 

रातों को भाग आए हम अपने मकान से 


मैं और मेरी तन्हाई अक्सर ये बातें करते हैं

कि नाश्ते मैं पोहा होता तो कैसा होता

साथ जलेबी पानी पुरी होती तो कैसा होता


वो नहीं है न सही तर्क ए तमन्ना न करो 

दिल अकेला है इसे और अकेला न करो 


छोड कर जाना सोची समझी साजिश थी

वर्ना तुम तो झगड़ा भी कर सकती थी


यादों की महफ़िल में खो कर 

दिल अपना तन्हा तन्हा है 


मुसाफ़िर ही मुसाफ़िर हर तरफ़ हैं 

मगर हर शख़्स तन्हा जा रहा है 


रास्ते बंट गए मंजिलें कहीं खो गई

उम्मीदों के समुंदर में तकदीरे कहीं खो गई


किसी के लिए आंसूं बहाने से कोई

अपना नहीं होता जो अपना

होता है वो कभी रोने नहीं देता


जब से देखा है चाँद को तन्हा,

तुम से भी कोई शिकायत ना रही


तू मेरे साथ नहीं है तो सोचता हूँ मैं 

कि अब तो तुझ से बिछड़ने का कोई डर भी नहीं 

अकेले तन्हा शायरी - Tanha Shayari In Hindi

Best shayari on tanhai in hindi
Best sad tanhai shayari

माँ की दुआ न बाप की शफ़क़त का साया है 

आज अपने साथ अपना जनम दिन मनाया है 


मैं अपनी तन्हाई को

सरेआम लिखना चाहती हूं

मेरे महबूब तेरे दिये

जख्म को लिखना चाहती हूं


ग़म के भरोसे क्या कुछ छोड़ा क्या अब तुम से बयान करें

ग़म भी रास न आया दिल को और ही कुछ सामान करें


करने और कहने की बातें किस ने कहीं और किस ने कीं

करते कहते देखें किसी को हम भी कोई पैमान करें


भली बुरी जैसी भी गुज़री उन के सहारे गुज़री है

हज़रत-ए-दिल जब हाथ बढ़ाएँ हर मुश्किल आसान करें


एक ठिकाना आगे आगे पीछे एक मुसाफ़िर है

चलते चलते साँस जो टूटे मंज़िल का एलान करें


'मीर' मिले थे 'मीरा-जी' से बातों से हम जान गए

फ़ैज़ का चश्मा जारी है हिफ़्ज़ उन का भी दीवान करें


लौटकर सब आएँगे सिर्फ़ वह नहीं जो युवा था

युवावस्था लौटकर नहीं आती

अगर आया भी तो वही नहीं होगा

पके बाल, झुर्रियाँ, ज़रा, थकान 

वह बूढ़ा हो चुका होगा

रास्ते में आदमी का बूढ़ा हो जाना 

स्वाभाविक है रास्ता सुगम हो या दुर्गम 

कोई क्यों चाहेगा बूढ़ा कहलाना?


फिरे राह से वो यहाँ आते आते 

अजल मर रही तू कहाँ आते आते 


न जाना कि दुनिया से जाता है कोई 

बहुत देर की मेहरबाँ आते आते 


सुना है कि आता है सर नामा-बर का 

कहाँ रह गया अरमुग़ाँ आते आते 


यक़ीं है कि हो जाए आख़िर को सच्ची 

मिरे मुँह में तेरी ज़बाँ आते आते 


सुनाने के क़ाबिल जो थी बात उन को 

वही रह गई दरमियाँ आते आते 


मुझे याद करने से ये मुद्दआ था 

निकल जाए दम हिचकियाँ आते आते 

No comments:
Write comment