Saturday, February 26, 2022

महाशिवरात्रि पर भगवान भोलेनाथ की शायरी | Bholenath Shayari, Status | Mahashivratri Shayari, Quotes

 bholenath ki shayari नमस्कार दोस्तों- वैसे तो शिवरात्रि हर महीने में आती है, परंतु महाशिवरात्रि पूरे साल में एक बार फाल्गुन महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को आता है, महाशिवरात्रि को ही भगवान शिव और शक्ति का मिलन हुआ था 

इस दिन भोलेनाथ के भक्त व्रत रखकर अपने आराध्य से आशीर्वाद की कामना करते हैं, प्राचीन पौराणिक कथाओं के अनुसार महाशिवरात्रि के दिन ही भगवान शंकर पहली बार प्रकट हुए थे 

आज के इस पोस्ट में मैं आप लोगों के लिए mahashivratri quotes, shayari, status और bholenath shayari, status लेकर आया हूं, जो आपको जरूर पसंद आएंगे इनके जरिए आप अपने दोस्तों रिश्तेदारों और परिजनों को महाशिवरात्रि की शुभकामनाएं दे सकते हैं 

तो चलिए दोस्तों दोस्तों पेश है mahashivratri shayari, bholenath shayari


 bholenath shayari, status |mahashivratri shayari /  भोलेनाथ की शायरी


bholenath shayari
bholenath quotes in hindi


                         

महादेव तेरे बगैर, सब व्यर्थ है मेरा 

मैं हूं तेरा शब्द, और तू अर्थ है मेरा।

mahaadev tere bagair, sab vyarth hai mera 

main hoon tera shabd, aur tU arth hai mera.



                         

हवा में नई सुर्खी आई है 

ये कैसी घटा छायी है 

फैली हे जो सुगंध हवा में 

जरूर महादेव की महाशिवरात्रि आयी है

शिवरात्रि की शुभकामनाये। 

hava mein naI surkhi aai hai 

ye kaisi ghata chhaayi hai 

faili he jo sugandh hava mein 

jaroor mahaadev ki mahashivaratri aayi hai 

shivaratri ki shubhakamanaye.



                         

उसने ही जगत बनाया है

कण-कण में वहीं समाया है,

दुःख भी सुख सा ही बीतेगा,

सर पे जब भगवान् शिव का साया है।

usane hi jagat banaaya hai 

kan-kan mein vahi samaaya hai, 

duhkh bhi sukh sa hi beetega, 

sar pe jab bhagavaan shiv ka saaya hai.



                         

पी के भांग ज़मा लो रंग

ज़िन्दगी बीते खुशियों के संग,

लेकर नाम शिव भोले का

दिल में भरलो शिवरात्रि की उमंग

आप सभी को शुभ महाशिवरात्रि।

pi ke bhaang zama lo rang 

zindagi beete khushiyon ke sang, 

lekar naam shiv bhole ka dil mein 

bharalo shivaraatri ki umang 

aap sabhi ko shubh mahashivaratri.



                         

महामृत्युञ्जय मंत्र...

ॐ त्र्यम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्।

उर्वारुकमिव बन्धनान् मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्॥



                         

शिव की शक्ति, शिव की भक्ति

ख़ुशी की बहार मिले,

शिवरात्रि के पावन अवसर पर आपको 

ज़िन्दगी की एक नई अच्छी शुरुवात मिले।

shiv ki shakti, shiv kee bhakti 

khushi ki bahaar mile, 

shivaraatri ke paavan avasar par aapako 

zindagi ki ek nai achchhi shuruvaat mile. 



                         

भोले बाबा का आशीर्वाद मिले आपको

उनकी दुआ का प्रसाद मिले आपको,

आप करे अपनी जिन्दगी में खूब तरक्की

और हर किसी का प्यार मिले आपको।

bhole baaba ka aashirvaad mile aapako 

unaki dua ka prasaad mile aapako, 

aap kare apani jindagi mein khoob tarakki 

aur har kisi ka pyaar mile aapako.



                         

कैसे कह दूँ कि मेरी, हर दुआ बेअसर हो गई

मैं जब जब भी रोया, मेरे भोलेनाथ को खबर हो गई।

kaise kah doon ki meri, har dua beasar ho gai 

main jab jab bhi roya, mere bholenaath ko khabar ho gai.


bholenath shayari, status |mahashivratri shayari, quotes

bholenath ki shayari
bhole baba shayari  


                         

विष पीने का आदि मेरा भोला है

नागों की माला और बाघों का चोला है,

भूतों की बस्ती का पीछे टोला है

मस्ती में डुबा डुबा वो मेरा भोला है।

vish peene ka aadi mera bhola hai 

naagon ki maala aur baaghon ka chola hai, 

bhooton ki basti ka peechhe tola hai 

masti mein duba duba vo mera bhola hai.



                         

नाजुक नही, बड़ा ही सख्त हूँ मैं,

क्या तुझे पता है शिव का भक्त हूँ मैं।

        Happy Shiv Ratri 

naajuk nahi, bada hi sakht hoon main, 

kya tujhe pata hai shiv ka bhakt hoon main. 

          happy shiv ratri



                         

तन की जाने, मन की जाने

जाने चित की चोरी उस 

महाकाल से क्या छिपावे

जिसके हाथ है सब की डोरी।

Happy Maha Shivratri

tan ki jaane, man ki jaane jaane chit ki 

chori us mahaakaal se kya chhipaave 

jisake haath hai sab ki dori. 

happy maha shivratri



                         

शिव का ध्यान करों दिन रात

शिव जाने हमारे दिल की हर बात,

शिव सब मनोकामना पूरी हैं करते

सेवको के सदा दुःख दूर हैं करते।

शुभ शिवरात्रि -- ॐ नमः शिवाय

shiv ka dhyaan karon din raat 

shiv jaane hamaare dil ki har baat, 

shiv sab manokaamana poori hain karate

 sevako ke sada duhkh door hain karate. 

shubh shivaraatri -- om namah shivaay



                         

बम भोले डमरू वाले शिव का प्यारा नाम है

भक्तो पे दरश दिखाता हरी का प्यारा नाम है,

शिव जी की जिसने दिल से की है पूजा

भगवान् शंकर ने सवारा उसका काम है। 

bam bhole damaru vaale shiv ka pyaara naam hai 

bhakto pe darash dikhaata hari ka pyaara naam hai, 

shiv jee ki jisane dil se ki hai pooja

 bhagavaan shankar ne savaara usaka kaam hai. 



                         

जब तुझसे न सुलझें, तेरे उलझे हुए धंधे

भगवान के इन्साफ पर सब छोड़ दे बन्दे,

ख़ुद ही तेरी मुश्किल को वो आसान करेंगें

जो तू नहीं कर पाया वो भगवान शिव करेंगें।

jab tujhase na sulajhen, tere ulajhe hue dhandhe 

bhagavaan ke insaf par sab chhod de bande, 

khud hi teri mushkil ko vo aasaan karenge 

jo tu nahin kar paaya vo bhagavaan shiv karenge.



                         

जिनके रोम-रोम में शिव हैं 

वही विष पिया करते हैं,

ज़माना उन्हें क्या जलाएगा जो 

श्रृंगार ही अंगार से किया करते हैं।

jinake rom-rom mein shiv hain 

vahi vish piya karate hain, 

zamaana unhen kya jalayega jo 

shringaar hi angaar se kiya karate hain.



                         

जिसने भगवान शिव को जान लिया,

उसने जीवन का मूल पहचान लिया।

jisane bhagavaan shiv ko jaan liya, 

usane jeevan ka mool pahachaan liya.



                         

शिव जी की पूजा करूं

शिव जी को मनाऊं रे,

शिव जी रोम-रोम में बसे है

दुनिया को कैसे बताऊं रे।

shiv jee ki pooja karoon 

shiv ji ko manaau re, 

shiv jee rom-rom mein base hai 

duniya ko kaise bataoon re.



                         

हर ओर सत्यम-शिवम-सुन्दरम

हर हृदय में हर-हर हैं,

जड़ चेतन में अभिव्यक्त सतत

कंकर-कंकर में शंकर हैं।

har or satyam-shivam-sundaram 

har hrday mein har-har hain, 

jad chetan mein abhivyakt satat 

kankar-kankar mein shankar hain.


ALSO READ :


mahashivratri shayari / bholenath shayari

mahashivratri shayari
mahashivratri shayari in hindi


                         

करूँ क्यों फ़िक्र कि मौत 

के बाद जगह कहाँ मिलेगी,

जहाँ होगी मेरे महादेव की 

महफ़िल मेरी रूह वहाँ मिलेगी।

karu kyon fikr ki maut 

ke baad jagah kahaan milegi, 

jahaan hogi mere mahaadev ki 

mahafil meri rooh vahaan milegi. 



                         

शिव की बनी रहे आप पर छाया

पलट दे जो आपकी किस्मत की काया,

मिले आपको वो सब अपनी ज़िन्दगी में

जो कभी किसी ने भी न पाया

शिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें। 

shiv ki bani rahe aap par chhaaya 

palat de jo aapaki kismat ki kaaya, 

mile aapako vo sab apani zindagi mein 

jo kabhi kisi ne bhi na paaya 

shivaratri ki haardik shubhakamanayen.



                         

अगर खुद को भगवान शिव का भक्त

मानते हो तो इस जीवन के सारे जहर,

स्वयं पीना और अमृत पूरी दुनिया में

बाँट देना. अगर जीवन में कोई कष्ट आयें

तो खुद को भगवान शिव को सौप दें।

agar khud ko bhagavaan shiv ka bhakt 

maanate ho to is jeevan ke saare jahar, 

svayan peena aur amrt poori duniya mein baant dena. 

agar jeevan mein koi kasht aayen to 

khud ko bhagavaan shiv ko saup den.



                         

शिव की शक्ति से

शिव की भक्ति से,

खुशियों की बहार मिले

महादेव की कृपा से,

आप सब दोस्तों को 

जिंदगी में प्यार मिले।

shiv ki shakti se 

shiv ki bhakti se, 

khushiyon ki bahaar mile 

mahaadev ki krpa se, 

aap sab doston ko 

jindagi mein pyaar mile.



                         

मुझमें कोई छल नहीं, तेरा कोई कल नहीं 

मौत के ही गर्भ में, ज़िंदगी के पास हूँ, 

अंधकार का आकार हूँ, प्रकाश का मैं प्रकार हूँ 

मैं शिव हूँ। मैं शिव हूँ। मैं शिव हूँ।

Happy Maha Shivratri 2022

mujhamen koi chhal nahin, tera koi kal nahin 

maut ke hi garbh mein, zindagee ke paas hoon, 

andhakaar ka aakaar hoon, prakaash ka main prakaar hoon 

main shiv hoon. main shiv hoon. main shiv hoon. 

happy maha shivratri 2022



                         

सारा जहाँ हैं जिसकी शरण में

नमन हैं उस भोले के चरण में,

बने उस भोले के चरणों की धुल

आओ मिलके चढ़ाये चरणों में

उनके हम दिल से श्रद्धा के फूल।

saara jahaan hain jisaki sharan mein 

naman hain us bhole ke charan mein, 

bane us bhole ke charanon ki dhul 

aao milake chadhaaye charanon mein 

unake ham dil se shraddha ke phool. 


ALSO READ :

bholenath shayari, status |mahashivratri shayari, quotes

mahashivratri ki shayari
shayari on mahashivratri


                         

माया को चाहने वाला बिखर जाता है,

और महादेव को चाहने वाला निखर जाता है।

maaya ko chaahane vaala bikhar jaata hai, 

aur mahaadev ko chaahane vaala nikhar jaata hai.



                         

शिव की शक्ति शिव की भक्ति, 

ख़ुशी की बहार मिले,

शिवरात्रि के पावन अवसर पर

आपको ज़िन्दगी की एक 

नई अच्छी शुरुवात मिले।

shiv ki shakti shiv ki bhakti, 

khushi ki bahaar mile, 

shivaraatri ke paavan avasar par 

aapako zindagi ki ek nai 

achchhi shuruvaat mile.



                         

शिव की महिमा अपरंपार

शिव करते सबका उद्धार;

उनकी कृपा आप पर सदा बनी रहे

और आपके जीवन में आयें खुशियाँ हज़ार।

Happy Maha Shivaratri

shiv ki mahima aparampaar 

shiv karate sabaka uddhaar; 

unaki kripa aap par sada banee rahe

 aur aapake jeevan mein aayen khushiyaan hazaar. 

happy maha shivaratri



                         

जगह-जगह में शिव हैं, हर जगह में शिव है,

है वर्तमान शिव और भविष्य भी शिव हैं।

jagah-jagah mein shiv hain, har jagah mein shiv hai, 

hai vartamaan shiv aur bhavishy bhi shiv hain.



                         

हम महादेव के दीवाने है

तान के सीना चलते है,

ये महादेव का जंगल है

यहाँ शेर श्रीराम के पलते है

हर हर महादेव.. जय श्रीराम।

ham mahaadev ke deevaane hai 

taan ke seena chalate hai, 

ye mahaadev ka jangal hai 

yahaan sher shri raam ke palate hai 

har har mahaadev.. jay shri raam. 



                         

आओ भगवान शिव को नमन करें,

उनका आशीर्वाद हम सब पर बना रहे।

ॐ नमः शिवाय--शिवरात्रि की हार्दिक शुभकामनाएँ

aao bhagavaan shiv ko naman karen, 

unaka aasheervaad ham sab par bana rahe. 

om namah shivaay--shivaraatri ki haardik shubhakamanaen 



                         

हे ! देवो के देव महादेव आप से छुप जाए

मेरी तकलीफ ऐसी कोई बात नहीं,

तेरी भक्ति से ही पहचान हैं मेरी

वरना मेरी कोई औकात नही।

हर हर महादेव

he ! devo ke dev mahaadev aap se chhup jaye 

meri takaleef aisi koi baat nahin, 

teree bhakti se hi pahachaan hain meri 

varana meri koi aukaat nahi. 

har har mahaadev 



                         

अदभुत भोले तेरी माया अमरनाथ में डेरा जमाया, 

नीलकंठ में तेरा साया तू ही मेरे दिल में समाया।

adabhut bhole teri maaya amaranaath mein dera jamaaya, 

neelakanth mein tera saaya tu hi mere dil mein samaaya.



No comments:
Write comment