Tuesday, January 14, 2020

best महाकाल Attitude शायरी स्टेटस | Mahakal Shayari, Status, Quotes

mahakal shayari नमस्कार दोस्तों- भगवान शंकर (शिव) संसार के प्रथम गुरु हैं, इन्हें 108 नामों से जाना जाता है, इनके भक्त इनको महादेव, शंकर, भोलेनाथ, महाकाल आदि कई नामों से पुकारते हैं 

भगवान शंकर बड़े ही भोले और दयालु हैं, ये भक्तों के द्वारा शिवलिंग पर एक लोटा जल चढ़ाने से भी प्रसन्न हो जाते हैं, और अपने भक्तों की मनोकामना को पूरी कर देते हैं 

भोलेनाथ स्वयं कहते हैं, तुम मेरे हो, मैं तुम हूँ, तुम मुझे मत खोजो मुझे पहचानो, मैं तुम्हारे हृदय में हूँ, मैं दिव्य प्रकाश हूँ, और मैं हीसर्वोच्च आत्मा हूँ, जो बंधन में है वह शव है, जो मुक्त है वो शिव है।

और आज के इस पोस्ट में मैं आपके लिए भगवान शंकर पर कहीं कुछ बेहतरीन शायरी और quotes, mahakal shayari, status, लेकर आया हूं जिन्हें आप जरूर पसंद करेंगे तो चलिए दोस्तों इस है पेश है mahakal status, महाकाल के दीवाने शायरी


 mahakal shayari, status, quotes

mahakal shayari
mahakal status


                           

कर से कर को जोड़कर

शिव को करूँ प्रणाम

हर पल शिव का ध्यान धर

सफ़ल हुए सब काम.।

   शुभ शिवरात्रि

kar se kar ko jodakar 

shiv ko karoon pranaam 

har pal shiv ka dhyaan dhar 

safal huye sab kaam..

 shubh shivaraatri



                           

जिनके रोम-रोम में शिव हैं वही विष पिया करते हैं,

ज़माना उन्हें क्या जलाएगा जो श्रृंगार ही अंगार से क्या करते हैं.।

jinake rom-rom mein shiv hain vahi vish piya karate hain, 

zamaana unhen kya jalayega jo shrringaar hi angaar se kiya karate hain..



                           

बहुत ही गहरी सोच में होंगे महादेव

 कलयुगी इंसान को देखकर कि,

विषपान तो मैंने किया था पर लोगों

 के दिल इतने जहरीले कैसे हो गये।

bahut hi gahari soch mein honge mahaadev 

kalayugi insaan ko dekhakar ki, 

vishapaan to mainne kiya tha par logon 

ke dil itane jahareele kaise ho gaye.



                           

मौत की गोद में सो रहे हैं

धुंए में हम खो रहे है

महाकाल की भक्ति है सबसे ऊपर

शिव शिव जपते जाग रहे है, सो रहे हैं।

maut ki god mein so rahe hain 

dhune mein ham kho rahe hai 

mahaakaal ki bhakti hai sabase oopar 

shiv shiv japate jaag rahe hai, so rahe hain.



                           

शेरो वाली दहाड़ फ़िर सुनाने आए हैं,

आग उगलने को फ़िर परवाने आये हैं।

रास्ता भी छोड़ दिया स्वयं काल ने,

जब देखा उसने “महाकाल” के दीवाने आए हैं।

shero wali dahaad fir sunaane aaye hain, 

aag ugalane ko fir paravaane aaye hain. 

raasta bhi chhod diya svayam kaal ne, 

jab dekha usane “mahaakaal” ke deevaane aaye hain. 



                           

चलना भी है BHAगना भी है,

महादेव को पाने के लिये

सोते हुए JAगना भी है…

जय महाकाल… हर हर महादेव।

chalana bhi hai bhagana bhi hai, 

mahaadev ko paane ke liye 

sote hue jagana bhee hai… 

jay mahaakaal…

 har har mahadev.



                           

महाकाल के भक्तों से पंगा,

और भरी महेफिल में दंगा मत करना

वरना करूँगा चौराहे पे नंगा,

और भेजूँगा तेरी अस्थियों को गंगा।

mahakaal ke bhakton se panga, 

aur bhari mahefil mein danga mat karana 

varana karoonga chauraahe pe nanga,

 aur bhejoonga teri asthiyon ko ganga.



                           

अपन की तो बस इतनी सी कहानी है,

बालक है हम उसके, जिसकी दुनिया दिवानी है।

जय भोले----- bHOLE_KA_BHAKt

apan ki to bas itani si kahaani hai, 

baalak hai ham usake, jisaki duniya divaani hai.

 jay bhole----- bhole_ka_bhakt 



                           

हर ओर सत्यम-शिवम-सुन्दरम,

हर हृदय में हर-हर हैं,

जड़ चेतन में अभिव्यक्त सतत

कंकर-कंकर में शंकर हैं.

हैप्पी शिवरात्रि --- ॐ नमः शिवाय।

har or satyam-shivam-sundaram, 

har hriday mein har-har hain, 

jad chetan mein abhivyakt satat 

kankar-kankar mein shankar hain. 

happy shivaratri --- om namah shivaay.



                           

बाबा की तारीफ करूँ कैसे

मेरे शब्दों में इतना जोर नहीं,

सारी दुनिया में जाकर ढूंढ लेना

मेरे महाकाल जैसा कोई और नहीं,

हृदय से ॐ सुमिरन किया तो

आवाज महाकालेश्वर तक जायेगी,

बाबा ने जो सुन ली हमारी तो

हर बिगड़ी ही बन जायेगी,

हर हर महादेव..... जय महाकाल।

baaba ki taareef karoon kaise

 mere shabdon mein itana jor nahin, 

saari duniya mein jaakar dhoondh lena 

mere mahaakaal jaisa koi aur nahin, 

hriday se om sumiran kiya to

 aavaaj mahaakaaleshvar tak jaayeygi,

 baaba ne jo sun li hamaari to 

har bigadi hi ban jaayegi,

 har har mahaadev..... jay mahaakaal.


mahakal shayari / mahakal status

mahakal status in hindi
 mahakal ki shayari


                           

घनघोर अँधेरा ओढ़ के मैं जन जीवन से दूर हूँ,

श्मशान में हूँ नाचता मैं मृत्यु का ग़ुरूर हूँ।

ghanaghor andhera odh ke main jan jeevan se door hoon, 

shmashaan mein hoon naachata main mrtyu ka guroor hoon.



                           

ना जाने किस भेष में 

आकर काम मेरा कर जाता है,

मैं जो भी माँगू मेरा महादेव वो

 मुझको चुपके से दे जाता है।

na jaane kis bhesh mein 

aakar kaam mera kar jaata hai, 

main jo bhi maangoo mera mahaadev vo

 mujhako chupake se de jaata hai.



                           

ना पुण्य है वो ना पाप है वो

एक अनदेखा सा श्राप है वो,

उसे डर नही किसी मन्त्र का

क्योकी खुद मे ही महाजाप है वो।

na punay hai vo na paap hai vo 

ek anadekha sa shraap hai vo, 

use dar nahi kisi mantr ka 

kyoki khud me hee mahaajaap hai vo.



                           

शव हूँ मैं भी शिव बिना, शव में शिव का वास,

शिव मेरे आराध्य हैं, मैं हूँ शिव का दास। 

 shav hoon main bhi shiv bina, 

shav mein shiv ka vaas, shiv mere aaraadhy hain, 

main hoon shiv ka daas.



                           

यह कलयुग है.

यहाँ ताज अच्छाई को नही

बुराई को मिलता है,

लेकिन हम तो बाबा महाकाल के दीवाने है ,

ताज के नही रुद्राक्ष के दीवाने है.।

yah kalayug hai. 

yahaan taaj achchhai ko nahi

 burai ko milata hai, 

lekin ham to baaba mahakal ke deevaane hai , 

taaj ke nahi rudraaksh ke deevaane hai..



                           

भगवान शिव की भक्ति से नूर मिलता हैं,

दिल के धड़कनों को सुरूर मिलता हैं,

जो भी आता भोले के द्वार

कुछ न कुछ जरूर मिलता हैं.।

bhagavaan shiv ki bhakti se noor milata hain, 

dil ke dhadakanon ko suroor milata hain, 

jo bhi aata bhole ke dwar kuchh na kuchh jaroor milata hain..



                           

इश्क मे पागल छोरे छोरिया

वेलेनटाइन डे के गुलाब बिन रहै है,

हम तो बाबा महाकाल के दिवाने है

 शिवरात्री के दिन गिन रहे है।

ishq me paagal chhore chhoriya

 velenatain day ke gulaab bin rahe hai,

 ham to baaba mahaakaal ke divaane hai

 shivaraatri ke din gin rahe hai.



                           

वो अजन्मे हैं, उनका ना आदि हैं ना अंत हैं,

अविनाशी हैं, कालोपरि हैं,

पंच महाभूतो के नाथ “भूतनाथ” हैं

वो कालो के काल महाकाल हैं वो।

vo ajanme hain, unaka na aadi hain na ant hain, 

avinaashi hain, kaalopari hain

, panch mahaabhooto ke naath “bhootanaath” hain 

vo kaalo ke kaal mahaakaal hain vo.



                           

 ना किसी आभाव में जीते हैं,

ना किसी के प्रभाव में जीते हैं,

भगवान शिव के भक्त हैं हम

सिर्फ अपने स्वभाव में जीते हैं

na kisi aabhaav mein jeete hain, 

na kisee ke prabhaav mein jeete hain, 

bhagavaan shiv ke bhakt hain

 ham sirf apane svabhaav mein jeete hain



                           

❌No_3G ❌No_4G Only_शिवG।



                           

जिन्दा साँस और मुरदा राख

चिलम मे गाँजा दूध मे भाँग

देव भी सोचे बार बार

दम लगाये हजार बार

 ऐसे है महाकाल।

jinda saans aur murada raakh 

chilam me gaanja doodh me bhaang

 dev bhi soche baar baar dam lagaaye hajaar baar 

aise hai mahakal.



                           

शिव का ध्यान करों दिन रात,

शिव जाने हमारे दिल की हर बात,

शिव सब मनोकामना पूरी हैं करते,

सेवको के सदा दुःख दूर हैं करते.।

shiv ka dhyaan karon din raat, 

shiv jaane hamaare dil kee har baat, 

shiv sab manokaamana poori hain karate, 

sevako ke sada duhkh door hain karate..


mahakal status / महाकाल के दीवाने शायरी hindi

jai mahakal status
mahakal attitude shayari


                           

तेरी जटाओं का एक छोटा सा बाल हूँ,

तेरे होने से मैं बेमिसाल हूँ।

तेरे होते मुझे कोई छू भी ना पाये,

क्योंकि मेरे भोलेनाथ, मैं तेरा लाल हूँ।

teri jataon ka ek chhota sa baal hoon, 

tere hone se main bemisaal hoon. 

tere hote mujhe koi chhoo bhi na paaye, 

kyonki mere bholenaath, main tera laal hoon.



                           

सभी कारणो के प्रमुख कारण, 

महायोगी, वैरागी निराकार, निर्गुण

सुंदरता की परिभाषा, और 

आकर्षण की पराकाष्ठा ऐसे मेरे भोलेनाथ

         महादेव को प्रणाम

sabhi kaarano ke pramukh kaaran, 

mahaayogi, vairaagee niraakaar, nirgun 

sundarata ki paribhaasha, aur

 aakarshan ki paraakaashtha aise mere bholenaath

 mahaadev ko pranaam 



                           

मिलती है तेरी भक्ती

महाकाल बडे जतन के बाद,

पा ही लूँगा तुझे मे...

श्मशान मे जलने के बाद।

milatee hai teri bhakti mahaakaal bade jatan ke baad, 

pa hi loonga tujhe me... shmashaan me jalane ke baad.



                           

वो गुरु हैं मेरा, वो मित्र हैं मेरा,

वो साथ हैं मेरा, वो विश्वास हैं मेरा,

वो मार्गदर्शक हैं मेरा, वो शासक हैं मेरा,

वो मेरा, मैं उसका, वो महाकाल हैं मेरा।

vo guru hain mera, vo mitr hain mera, 

vo saath hain mera, vo vishvaas hain mera, 

vo maargadarshak hain mera, vo shaasak hain mera, 

vo mera, main usaka, vo mahaakaal hain mera. 



                           

खुशबु आ रही है कही से

गांजे और भांग की

शायद खिड़की खुली रह गयी है

मेरे महाकाल के दरबार की।

khushabu aa rahi hai kahi se gaanje aur bhaang ki 

shaayad khidaki khuli rah gayi hai mere mahakal ke darabaar ki.



                           

जिन्हें ना हार का फिक्र,

नाही करते जित का जिक्र,

 ना सम्मान का मोह,

और नाही अपमान का भय…

 वो है सब से अलग, देवो के देव “महादेव”।

jinhen na haar ka fikr, naahi karte jit ka jikr, 

na sammaan ka moh, aur naahi apamaan ka bhay… 

vo hai sab se alag, devo ke dev “mahaadev”.



                           

बिमार मोहब्बत का, दवा मांग रहा हुँ,

मेरे बाबा के दामन की हवा मांग रहा हुँ

जंजीर बांध कर मुझे ले चलिये महाकाल के पास,

मुजरिम हुँ, आपके दर्शन की सजा मांग रहा हुँ।

          जय महाकाल

bimaar mohabbat ka, dava maang raha hun, 

mere baaba ke daaman ki hava maang raha hun 

janjeer baandh kar mujhe le chaliye mahaakaal ke paas, 

mujarim hun, aapake darshan ki saja maang raha hun. 

                   jay mahaakaal



                           

सर्पों के बीच रहने वाला क़लापी,

दिगम्बर, मशान ही मेरा मूल स्थान हैं

रूद्र, अघोरा मेरे रूप हैं,

मैं प्रलय रूद्र हूँ, मैं महाकाल हूँ।

sarpon ke beech rahane vaala qalaapi, digambar, 

mashaan hi mera mool sthaan hain roodr, 

aghora mere roop hain, 

main pralay roodr hoon, main mahaakaal hoon.



                           

गरीब को किया दान और 

मुँह से निकला महादेव का नाम

 कभी व्यर्थ नहीं जाता ।

gareeb ko kiya daan aur 

munh se nikala mahaadev ka naam 

kabhi vyarth nahin jaata . 


ALSO READ :

महाकाल के दीवाने स्टेटस / mahakal shayari

mahakal status
mahakal status in hindi


                           

माया को चाहने वाला बिखर जाता हैं,

और महादेव को चाहने वाला निखर जाता हैं।

maaya ko chaahane vaala bikhar jaata hain, 

aur mahaadev ko chaahane vaala nikhar jaata hain.



                           

लगा के महाकाल का नारा, हम दुनिया में छा गये…

दुश्मन भी हमारे छुपकर बोले

वो देखो महाकाल के भक्त आ गये।

      जय महाकाल

laga ke mahaakaal ka naara, ham duniya mein chha gaye… 

dushman bhi hamaare chhupakar bole 

vo dekho mahaakaal ke bhakt aa gaye. 

           jay mahaakaal



                           

ऐ जन्नत अपनी औकात में रहना,

हम तेरी जन्नत के मोहताज नही।

हम गुरू भोलेनाथ के चरणों के वासी हैं,

वहाँ तेरी भी कोई औकात नही।

aye jannat apani aukaat mein rahana, 

ham teri jannat ke mohataaj nahi. 

ham guru bholenaath ke charanon ke vaasi hain, 

vahaan teri bhi koi aukaat nahi.



                           

महादेव की बनी रहे आप पर छाया,

जो पलट दे आपके तकदीर की काया,

आपको वो सब अपने जीवन में मिलें

जो कभी किसी ने नही पाया.।

mahaadev ki bani rahe aap par chhaaya,

 jo palat de aapake takadeer ki kaaya,

 aapako vo sab apane jeevan mein milen 

jo kabhi kisi ne nahi paaya..



                           

कौन कहता है भारत में

fogg चल रहा है ?

यहाँ तो सिर्फ महाकाल के भक्तो का

खौफ- चल रहा है.।

kaun kahata hai bharat mein 

fogg chal raha hai ? 

yahaan to sirph mahaakaal ke bhakto ka

 khauf- chal raha hai..



                           

उसने ही जगत बनाया है, कण-कण में वहीं समाया है

दुःख भी सुख-सा बीतेगा, सर पे जब शिव का साया है।

usane hi jagat banaaya hai, 

kan-kan mein vahi samaaya hai 

duhkh bhi sukh-sa beetega, 

sar pe jab shiv ka saaya hai.



                           

प्रभु की बनाई कुदरत नहीं देखी,

दिलों में छुपी दौलत नहीं देखी,

जो कहते है भगवान नहीं इस दुनिया में,

शायद उसने अभी तक उज्जैन में

महाकाल की चौखट नहीं देखी 

जय बाबा महाकाल। 

prabhu ki banai kudarat nahin dekhi, 

dilon mein chhupi daulat nahin dekhi, 

jo kahate hai bhagavaan nahin is duniya mein, 

shaayad usane abhi tak ujjain mein 

mahakal ki chaukhat nahin dekhi 

jay baaba mahaakaal.



                           

यह तेरा करम था की तूने 

मुझे अपना दीवाना बना दिया,

मैं खुद से था पराया तूने अपना बना लिया।

yah tera karam tha ki toone mujhe apana deevaana bana diya, 

main khud se tha paraaya toone apana bana liya.


ALSO READ :

महाकाल रॉयल स्टेटस / mahakal ki shayari

mahakal shayari in hindi
mahadev ki shayari


                          

कैसे कह दूँ कि मेरी, हर दुआ बेअसर हो गई,

मैं जब-जब रोया तब-तब महादेव को खबर हो गई.।

kaise kah doon ki meri, har dua beasar ho gai, 

main jab-jab roya tab-tab mahaadev ko khabar ho gai..



                           

मस्तक सोहे ‪चन्द्रमा‬, गंग ‪‎जटा‬ के बीच,‬‬

श्रद्धा‬ से ‪‎शिवलिंग‬ को, निर्मल जल मन से सीच।

mastak sohe ‪chandrama‬, gang ‪‎jata‬ ke beech,‬‬ 

shraddha‬ se ‪‎shivaling‬ ko, nirmal jal man se seech.



                           

वो समंदर ही क्या जिसका कोई किनारा ना हो,

वो इबादत ही क्या जिसमे महाकाल नाम तेरा हैं हो।

सरगम की सब धुन कानो को लगती हैं मधुर,

वो धुन ही क्या जिसमे महाकाल नाम पुकारा ना हो।

कहते हैं मारता नहीं सबको बचाता हैं महाकाल तू जहां में,

वो इंसान ही क्या जो महाकाल तेरे नाम का दिवाना ना हो।

vo samandar hi kya jisaka koi kinaara na ho, 

vo ibaadat hi kya jisame mahaakaal naam tera hain ho. 

saragam ki sab dhun kaano ko lagati hain madhur, 

vo dhun hi kya jisame mahaakaal naam pukaara na ho. 

kahate hain maarata nahin sabako bachaata hain mahaakaal too jahaan mein, 

vo insaan hi kya jo mahaakaal tere naam ka divaana na ho.



                           

ना गिन के दिया ना तोल के दिया,

मेरे महाकाल ने जिसे भी दिया

  दिल खोल के दिया।

na gin ke diya na tol ke diya, 

mere mahaakaal ne jise bhi diya 

dil khol ke diya. 



                           

लोग कहते हैं अगर हाथों की लकीरें

अधूरी हो तो किस्मत अच्छी नही होती,

लेकिन हम कहते हैं कि सर पर हाथ

‘महादेव’ का हो तो लकीरों की ज़रूरत नही होती.।

log kahate hain agar haathon ki lakeeren 

adhoori ho to kismat achchhi nahi hoti, 

lekin ham kahate hain ki sar par haath

 ‘mahaadev’ ka ho to lakeeron ki zaroorat nahi hoti.. 



                           

दुनिया पर किया गया भरोसा तो टूट सकता हैं,

लेकिन दुनिया के मालिक ‘भगवान शिव’ पर

किया भरोसा कभी नहीं टूटता हैं.।

duniya par kiya gaya bharosa to tut sakata hain, 

lekin duniya ke maalik ‘bhagavaan shiv’ 

par kiya bharosa kabhi nahin tutata hain.. 



                           

भटक भटक के ये जग हारा, संकट में दिया ना कोई साथ

सुलझ गई हर एक समस्या, महाकाल ने जब पकड़ा हाथ।

              जय महाकाल

bhatak bhatak ke ye jag haara, 

sankat mein diya na koi saath 

sulajh gai har ek samasya, 

mahaakaal ne jab pakada haath. 

jay mahaakaal



                           

मौत को मैं मुठ्ठी में रखता हुँ,

मेरे हर सास को सावधान रखता हुँ।

 अरे ! कोई मेरे अरमानों की होली क्या करेगा

 महाकाल का भक्त हुँ,

दिल में सुलगता समशान रखता हुँ।

maut ko main muththi mein rakhata hun,

 mere har saas ko saavadhaan rakhata hun. 

are ! koi mere aramaanon ki holi kya karega 

mahaakaal ka bhakt hun, 

dil mein sulagata samashaan rakhata hun.



                           

नीम का पेड़ कोई चन्दन से कम नही,

उज्जैन नगरी कोई लन्दन से कम नही,

जहाँ बरस रहा है मेरे महाकाल का प्यार,

वो दरबार भी कोई जन्नत से कम नही।

neem ka ped koi chandan se kam nahi, 

ujjain nagari koi landan se kam nahi,

 jahaan baras raha hai mere mahakal ka pyaar, 

vo darabaar bhi koi jannat se kam nahi. 



                           

मैनें तेरा नाम लेके ही

सारे काम किये है महादेव

और लोग समझतें है

की बन्दा किस्मत वाला है।

maine tera naam leke hi 

saare kaam kiye hai mahaadev 

aur log samajhaten hai 

ki banda kismat vaala hai.



                           

जिन्दगी एक धुआँ हैं जाने कहा थम जायेगा,

कर ले मेरे महाकाल की भक्ति जीवन सफल हो जायेगा।

jindagi ek dhuaan hain jaane kaha tham jaayega, 

kar le mere mahaakaal ki bhakti jeevan safal ho jaayega.



                           

ख़ुद को भगवान शिव से जोड़ दो,

 बाकि सब उन्हीं पर छोड़ दो.।

khud ko bhagavaan shiv se jod do, 

baaki sab unheen par chhod do.. 



                           

तन की जाने, मन की जाने,

जाने चित की चोरी उस महाकाल से क्या छिपावे

जिसके हाथ है सब की डोरी।

tan ki jaane, man ki jaane, 

jaane chit ki chori us mahaakaal se kya chhipaave 

jisake haath hai sab ki dori.



                           

जब तुझसे न सुलझें, तेरे उलझे हुए धंधे,

भगवान के इन्साफ पर सब छोड़ दे बन्दे,

ख़ुद ही तेरी मुश्किल को वो आसान करेंगें,

जो तू नहीं कर पाया वो भगवान शिव करेंगें।

jab tujhase na sulajhen, tere ulajhe hue dhandhe, 

bhagavaan ke insaaf par sab chhod de bande, 

khud hee teri mushkil ko vo aasaan karengen, 

jo too nahin kar paaya vo bhagavaan shiv karengen.



                           

कहता हैं की मौत सामने आएगा तो मैं डर जाऊंगा।

कैलाश तक चलने वाला महादेव का दीवाना हूँ,

मौत को भी हर हर महादेव कर के निकल जाऊंगा।

kahata hain ki maut saamane aayega to main dar jaoonga. 

kailaash tak chalane vaala mahaadev ka deevaana hoon, 

maut ko bhi har har mahaadev kar ke nikal jaoonga.



                           

करनी हैं महाकाल से गुजारिश,

आपकी भक्ति के बिना कोई बन्दगी ना मिले।

हर जन्म मे मिले आप जैसा गुरू,

या फिर ये जिन्दगी ना मिले।

karani hain mahaakaal se gujaarish,

 aapaki bhakti ke bina koi bandagi na mile. 

har janm me mile aap jaisa guru, 

ya phir ye jindagi na mile. 



                           

खुल चूका है नेत्र तीसरा

शिव शम्भू त्रिकाल का,

इस कलयुग में वो ही बचेगा

जो भक्त होगा महाकाल का।

khul chooka hai netr teesara shiv shambhoo trikaal ka, 

is kalayug mein vo hi bachega jo bhakt hoga mahaakaal ka.


mahakal shayari, status, quotes / महादेव शायरी हिंदी attitude

mahakal shayari
mahakal status


                           

दिखावे की मोहब्बत से दूर रहता हूँ,

मैं तो ‘भगवान शिव’ की भक्ति में चूर रहता हूँ।

dikhaave kee mohabbat se door rahata hoon, 

main to ‘bhagavaan shiv’ ki bhakti mein chur rahata hoon.



                           

ना गिन के दिया, ना तौल के दिया,

भगवान शिव ने सबको दिल खोल के दिया।

na gin ke diya, na taul ke diya, 

bhagavaan shiv ne sabako dil khol ke diya. 



                           

शिव की बनी रहे आप पर छाया,

पलट दे जो आपकी किस्मत की काया;

मिले आपको वो सब अपनी ज़िन्दगी में,

 जो कभी किसी ने भी न पाया।

shiv ki bani rahe aap par chhaaya, 

palat de jo aapaki kismat ki kaaya; 

mile aapako vo sab apani zindagi mein,

 jo kabhi kisi ne bhi na paaya.



                           

बाबा की तारीफ करूँ कैसे,

मेरे शब्दों में इतना जोर नहीं,

सारी दुनिया में जाकर ढूंढ लेना,

मेरे महाकाल जैसा कोई और नहीं।

baaba ki taareef karoon kaise, 

mere shabdon mein itana jor nahin, 

saari duniya mein jaakar dhoondh lena,

 mere mahaakaal jaisa koi aur nahin.



                           

महाकाल तेरी कृपा रही तो

एक दिन अपना भी मुकाम होगा।

70-80 लाख की AUDI_CAR होगी और

FRONT शीशे पे महाकाल तेरा नाम होगा।

mahaakaal teri kripa rahi to

 ek din apana bhi mukaam hoga. 

70-80 laakh ki audi_car hogi aur 

front sheeshe pe mahaakaal tera naam hoga.



                           

.महाकाल की सेवा जिसको मिले,

सबसे बड़ा धनवान हैं वो।

 महाकाल की लगन जिसको लगी

 किस्मत वाला इंसान हैं वो।

mahaakaal ki seva jisako mile, 

sabase bada dhanavaan hain vo. 

mahaakaal ki lagan jisako lagi 

kismat vaala insaan hain vo.



                           

शिव की ज्योति से नूर मिलता है,

सबके दिलों को सुरूर मिलता है;

जो भी जाता है भोले के द्वार,

कुछ न कुछ ज़रूर मिलता है। 

shiv ki jyoti se noor milata hai, 

sabake dilon ko suroor milata hai; 

jo bhi jaata hai bhole ke dvaar, 

kuchh na kuchh zaroor milata hai.



                           

चीलम खीच के, भांग पीट के,

रमै तन भस्म का चोला

तीनों लोक ते थर थर कांपे,

जब तांडव करे मेरा भोला।

    हर हर महादेव

cheelam kheech ke, bhaang peet ke, 

ramai tan bhasm ka chola

 teenon lok te thar thar kaampe, 

jab taandav kare mera bhola.

 har har mahaadev 



                           

कर्ता करे न कर सकै, शिव करें सो होय,

तीन लोक नौ खंड में, महादेव से बड़ा न कोय।

karta kare na kar sake, shiv karen so hoy, 

teen lok nau khand mein, mahaadev se bada na koy.



                           

मैं नही कहता मैं साधु हूँ, ना ही संत हूँ,

मैं तो महादेव का एक तुच्छ सा भक्त हूँ।

 मैं तो महादेव से ही शुरू हूँ

और महादेव पर ही अंत हूँ।

main nahi kahata main saadhu hoon, 

na hi sant hoon, main to 

mahaadev ka ek tuchchh sa bhakt hoon. 

main to mahaadev se hi shuru hoon 

aur mahaadev par hi ant hoon.



                           

प्रभु की बनाई कुदरत नहीं देखी,

दिलों में छुपी दौलत नहीं देखी,

जो कहते है भगवान नहीं इस दुनिया में,

शायद उसने अभी तक उज्जैन में

महाकाल की चौखट नहीं देखी।

\prabhu ki banai kudarat nahin dekhi, 

dilon mein chhupi daulat nahin dekhi, 

jo kahate hai bhagavaan nahin is duniya mein, 

shaayad usane abhi tak ujjain mein 

mahaakaal ki chaukhat nahin dekhi. 



                           

यकिन है कि महादेव मेरे साथ है,

इसलिये फर्क नहीं पड़ता की कौन-कौन मेरे खिलाफ है।

             हर हर महादेव

yakin hai ki mahaadev mere saath hai, 

isaliye fark nahin padata ki kaun-kaun mere khilaaf hai.

                   har har mahaadev



                           

नाम इतना जपो कि, महाकाल धड़कन में उतर जाये,

साँस भी लो तो खुशबू, महाकाल दरबार की आये।

महाकाल का नशा दिल पर ऐसा छाए,

 बात कोई भी हो पर नाम जय श्री महाकाल ही जिव्हा पर आये 

naam itana japo ki, mahaakaal dhadakan mein utar jaaye, 

saans bhi lo to khushabu, mahaakaal darabaar ki aaye. 

mahaakaal ka nasha dil par aisa chhaye, 

baat koi bhi ho par naam jay shri mahaakaal hi jivha par aaye



2 comments:
Write comment