जैसा विचार होगा वैसा चिंतन होगा



नमस्कार दोस्तों- आज के इस पोस्ट में मैं आपके लिए एक शिक्षाप्रद हिंदी कहानी लेकर आया हूं। और आज कि यह कहानी आपको निश्चित ही पसंद आएगी क्योंकि कहानियां हमारी सोच पर गहरा प्रभाव डालती हैं

 और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरूर करें तो आइए पढ़ते हैं। short motivational story in hindi

कहानी- जैसा विचार वैसा चिंतन


एक ध्यानी जब भी पूजा और ध्यान करने बैठता तभी उसके मन में तरह-तरह के बुरे विचार आने लगते। वह इस समस्या का हल जानने के लिए अपने गुरु के पास गया, उसके गुरुदेव ने उसे एक कुत्ते की सेवा करने का आदेश दिया।

और वह ध्यानी वहीं अपने गुरु के आश्रम में रहकर कुत्ते की सेवा करने लगा शिष्य इसका मतलब तो नहीं समझ सका, लेकिन गुरु की आज्ञा मानकर उसने वैसा ही किया दस दिनों में ही वह उस कुत्ते से पूरी तरह हिल मिल गया।

उसके बाद गुरु ने शिष्य से कहा जाओ अब इस कुत्ते को भगाकर आओ, वह ध्यानी जब भी कुत्ते को भगाता वह फिर उसी के पीछे-पीछे लौट आता तब उसके गुरु ने ध्यानी को समझाते हुए कहा कि

तुम दिन भर जिन बुरे विचारों में डूबे रहते हो वह पूजा के समय तुम्हारा साथ थोड़ी ना छोड़ेंगे। शिष्य को गुरु की बात का तात्पर्य समझ में आ गया और उसके बाद वह दिन भर अच्छे विचार करते रहने की साधना शुरू कर दी

कहानी से शिक्षा-  किसी भी कार्य में मात्र ध्यान और एकाग्रता ही नहीं बल्कि अच्छे विचारों की तन्मयता भी जरूरी है, क्योंकि कर्म के समय आपके विचार जैसे होंगे वैसा ही उसका फल वह वैसे ही उसकी परिणीति होगी

यह पोस्ट भी पढ़ें ➥ संगत का असर

यह पोस्ट भी पढ़ें ➥ परिस्थितियों से घबराए नहीं

Post a Comment

0 Comments