Tuesday, February 22, 2022

Best 100 + Gam Shayari | Gam Bhari Shayari, Quotes, Status

Dard Bhari Shayari (दर्द भरी शायरी) नमस्कार दोस्तों- हमें अपनी जिंदगी में कई एहसासों से गुजरना पड़ता है, इसी में किसी रिश्ते के टूटने का दुख भी शामिल है, यह एक ऐसा एहसास होता है जहां सिर्फ दुख और दर्द का अनुभव होता है 

क्योंकि जिस भी इंसान को हम अपना मानते थे जब वही हमें परायेपन का एहसास कराता है, तो एक इमोशनल दर्द की फीलिंग होना लाजमी है 

और आज के इस पोस्ट में मैं आप लोगों के लिए दर्द शायरी dard bhari shayari, gam bhari shayari लेकर आया हूं जिसे आप जरूर पसंद करेंगे अगर आपको यह पोस्ट पसंद आए तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें 

तो चलिए दोस्तों पेश है gam bhari shayari | dard sad shayari, quotes, status


dard bhari shayari
gam bhari shayari


gam bhari shayari / dard sad shayari

dard bhari shayari  in hindi

तुमने तो कहा था हर शाम तेरा हाल पूछा करेंगे,

तुम बदल गए हो या तुम्हारे शहर में शाम नहीं होती।

dard bhari shayari  in English

 tumane to kaha tha har shaam tera haal puchha karenge, 

tum badal gaye ho ya tumhaare shahar mein shaam nahin hoti.



उसके चले जाने के बाद

हम महोबत नहीं करते किसी से,

छोटी सी जिन्दगी है

किस किस को अजमाते रहेंगे।

usake chale jaane ke baad ham mahobat nahin karate kisi se, 

chhotee si jindagi hai kis kis ko ajamaate rahenge.



वक़्त ख़ुशी से काटने का मशवरा देते हुये,

रो पड़ा वो ख़ुद ही मुझे हौंसला देते हुये।

vaqt khushi se katane ka mashavara dete huye, 

ro pada vo khud hi mujhe haunsala dete huye. 



तरस आता है मुझे अपनी मासूम सी पलकों पर,

जब भीग कर कहती है कि अब रोया नहीं जाता।

taras aata hai mujhe apani maasoom si palakon par, 

jab bheeg kar kahati hai ki ab roya nahin jaata.



मेरा जमीर मुझसे हर रोज कहता है 

मत देख अपने हाथों की लकीरों को, 

वो तब भी तेरी नहीं थी....

जब उसका हाथ तेरे हाथ में था।

mera jameer mujhase har roj kahata hai 

mat dekh apane haathon ki lakeeron ko,

 vo tab bhi teri nahin thi.... 

jab usaka haath tere haath mein tha. 



हर कोई मुझे जिंदगी जीने का तरीका बताता है, 

उन्हें कैसे समझाऊँ की कुछ ख्वाब अधुरे हैं, 

वर्ना जीना मुझे भी आता है।

har koi mujhe jindagi jeene ka tareeka bataata hai, 

unhen kaise samajhaoon ki kuchh khvaab adhure hain, 

varna jeena mujhe bhi aata hai.



ज़िन्दगी ने मेरे दर्द का क्या खूब इलाज सुझाया,

वक्त को दवा बताया ख्वाहिशों से परहेज़ बताया।

zindagi ne mere dard ka kya khoob ilaaj sujhaaya, 

vakt ko dava bataaya khvaahishon se parahez bataaya.



गलती हुई की उसे जान से भी ज्यादा चाहने लगे,

क्या पता थी की मेरी इतनी वफ़ा उसे बेवफा कर देगी।

galati hui ki use jaan se bhi jyaada chaahane lage, 

kya pata thi ki meri itani wafa use bewafa kar degi.



न जाने किस तरह के हैं दुनिया के लोग भी,

प्यार भी प्यार से करते हैं और बर्बाद भी प्यार से।

na jaane kis tarah ke hain duniya ke log bhi, 

pyaar bhi pyaar se karate hain aur barbaad bhi pyaar se.



हँसते हुए ज़ख्मों को भुलाने लगे हैं हम

हर दर्द के निशान मिटाने लगे हैं हम,

अब और कोई ज़ुल्म सताएगा क्या भला

ज़ुल्मों सितम को अब तो सताने लगे हैं हम।

hansate hue zakhmon ko bhulaane lage hain ham 

har dard ke nishaan mitaane lage hain ham, 

ab aur koi zulm satayega kya bhala 

zulmon sitam ko ab to sataane lage hain ham.


dard shayari in hindi / gam shayari

gam bhari shayari
dard bhari shayari in hindi


अपना कोई मिल जाता तो हम फूट के रो लेते,

यहाँ सब गैर हैं तो हँस के गुजर जायेगी।

apana koi mil jaata to ham foot ke ro lete, 

yahaan sab gair hain to hans ke gujar jaayegi.



मरता नहीं कोई किसी के बगैर ये हकीकत है ज़िन्दगी,

लेकिन सिर्फ सांस लेने को जीना तो नहीं कहते।

marata nahin koi kisi ke bagair ye hakeeqat hai zindagi, 

lekin sirf saans lene ko jeena to nahin kahate. 



कभी-कभी सपने चूर हो जाते हैं 

हालात से लोग दूर हो जाते हैं, 

पर कुछ यादें इतनी हंसीन होती हैं कि 

उन्हें याद करने को हम मजबूर हो जाते हैं।

kabhi-kabhi sapane choor ho jaate hain 

haalaat se log door ho jaate hain, 

par kuchh yaaden itani hanseen hoti hain ki 

unhen yaad karane ko ham majaboor ho jaate hain.



तुम्हारे एक लम्हें पर भी, मेरा हक नहीं,

ना जाने तुम किस हक से, मेरे हर लम्हें में शामिल हो।

tumhaare ek lamhen par bhi,  mera haq nahin, 

na jaane tum kis haq se, mere har lamhen mein shaamil ho.



मुझे उदास देख कर उसने कहा 

मेरे होते हुए तुम्हें कोई दुःख नहीं दे सकता, 

फिर ऐसा ही हुआ जिंदगी में... 

जितने दुःख मिले सब उसी ने दिये।

mujhe udaas dekh kar usane kaha

 mere hote hue tumhen koi duhkh nahin de sakata, 

phir aisa hi hua jindagi mein... 

jitane duhkh mile sab usi ne diye.



मुझको रूला कर दिल उसका भी रोया होगा

उसकी आंखों पर भी आंसू तो आया होगा, 

अगर न किया कुछ हासिल हमने प्यार में 

कुछ न कुछ उसने भी तो खोया होगा।

mujhako rula kar dil usaka bhi roya hoga 

usaki aankhon par bhi aansoo to aaya hoga, 

agar na kiya kuchh haasil hamane pyaar mein 

kuchh na kuchh usane bhi to khoya hoga.



कौन कहता है नफ़रतों मैं दर्द होता है,

कुछ मोहब्बत बड़ी कमाल की होती है।

kaun kahata hai nafaraton main dard hota hai, 

kuchh mohabbat badi kamaal ki hoti hai.



बहुत चाहा उसको जिसे हम पा न सके

ख्यालों में किसी और को ला न सके,

उसको देख के आंसू तो पोंछ लिए

लेकिन किसी और को देख के मुस्कुरा न सके।

bahut chaaha usako jise ham pa na sake

 khyaalon mein kisi aur ko la na sake,

 usako dekh ke aansu to ponchh liye 

lekin kisi aur ko dekh ke muskura na sake.



बहुत दर्द हैं ऐ जान-ए-अदा तेरी मोहब्बत में,

कैसे कह दूँ कि तुझे वफ़ा निभानी नहीं आती।

bahut dard hain aye jaan-e-ada teri mohabbat mein, 

kaise kah doon ki tujhe wafa nibhaani nahin aati.



जीना चाहता हूँ मगर जिंदगी रास नहीं आती, 

मरना चाहता हूँ मगर मौत पास नहीं आती, 

उदास हूं इस जिन्दगी से, क्योंकि... 

उसकी यादें भी तो तड़पाने से बाज नहीं आती।

jeena chaahata hoon magar jindagi raas nahin aati, 

marana chaahata hoon magar maut paas nahin aati, 

udaas hoon is jindagi se, kyonki... 

usaki yaaden bhi to tadapaane se baaj nahin aati.


dard bhari shayari in hindi text / dard sad shayari

dard bhari shayari photo
dard sad shayari


खुद ही रोए और खुद ही चुप हो गए,

ये सोचकर की कोई अपना होता तो रोने ना देता।

khud hi roye aur khud hi chup ho gaye,

 ye sochakar ki koi apana hota to rone na deta.



जब याद आती है मुस्कुरा लेते हैं

कुछ पल हर गम भुला देते हैं, 

कैसे भीग सकती हैं उनकी पलकें 

उनके हिस्से के आंसू जो हम बहा लेते हैं।

jab yaad aati hai muskura lete hain 

kuchh pal har gam bhula dete hain, 

kaise bheeg sakati hain unaki palaken

 unake hisse ke aansoo jo ham baha lete hain.



इस तरह मिली वो मुझे सालों के बाद

जैसे हक़ीक़त मिली हो ख्यालों के बाद,

मैं पूछता रहा उस से ख़तायें अपनी

वो बहुत रोई मेरे सवालों के बाद।

is tarah mili vo mujhe saalon ke baad

 jaise haqeeqat mili ho khyaalon ke baad, 

main poochhata raha us se khataayen apani 

vo bahut roi mere savaalon ke baad.



बैठे है रहगुज़र पर दिल का दिया जलाये,

शायद वो दर्द जाने, शायद वो लौट आये।

baithe hai rahaguzar par dil ka diya jalaaye, 

shaayad vo dard jaane, shaayad vo laut aaye.



किस दर्द को लिखते हो इतना डूब कर,

एक नया दर्द दे दिया है उसने ये पूछकर।

kis dard ko likhate ho itana doob kar,

 ek naya dard de diya hai usane ye poochhakar.



वो नही आती पर अपनी निशानी भेज देती है

ख्वाबो में दास्ताँ पुरानी भेज देती है,

उसकी यादों के पल कितने भी मीठे हैं

मगर कभी कभी आँखों में पानी भेज देती है।

vo nahi aati par apani nishaani bhej deti hai 

khvaabo mein daastaan puraani bhej deti hai, 

usaki yaadon ke pal kitane bhi meethe hain 

magar kabhi kabhi aankhon mein paani bhej detee hai.



दर्द बहुत हुआ दिल के टूट जाने से

कुछ न मिला उनके लिए आँसू बहाने से,

वो जानते थे वजह मेरे दर्द की...

फिर भी बाज़ न आये मुझे आजमाने से।

dard bahut hua dil ke toot jaane se 

kuchh na mila unake liye aansoo bahaane se, 

vo jaanate the vajah mere dard kee... 

fir bhi baaz na aaye mujhe aajamaane se.



प्यार सभी को जीना सिखा देता है

वफा के नाम पर मरना सिखा देता है,

प्यार नहीं किया तो कर के देख लो यारों

जालिम हर दर्द सहना सिखा देता है।

pyaar sabhi ko jeena sikha deta hai 

wafa ke naam par marana sikha deta hai, 

pyaar nahin kiya to kar ke dekh lo yaaron 

jaalim har dard sahana sikha deta hai.



मैं तो बस ज़िंदगी से डरता हूं,

मौत तो एक बार मारेगी।

main to bas zindagi se darata hoon, 

maut to ek baar maaregi.


gam bhari shayari | dard sad shayari, quotes, status

shayari gam bhari
 dardnak shayari


बयाँ करना मोहब्बत को आसान न हुआ था,

ये जो दर्द है कैसे कह दूँ कि ये तुमने दिया है।

bayaan karana mohabbat ko aasaan na hua tha, 

ye jo dard hai kaise kah doon ki ye tumane diya hai.



वो तो अपना दर्द रो-रो कर सुनाते रहे

हमारी तन्हाइयों से भी आँख चुराते रहे,

हमें ही मिल गया खिताब-ए-बेवफा क्योंकि

हम हर दर्द मुस्कुरा कर छुपाते रहे।

vo to apana dard ro-ro kar sunaate rahe 

hamaari tanhaiyon se bhi aankh churaate rahe, 

hamen hi mil gaya khitaab-e-bewafa 

kyonki ham har dard muskura kar chhupaate rahe.



तकलीफ ये नहीं कि तुम्हें अज़ीज़ कोई और है,

दर्द तब हुआ जब हम नजरंदाज किए गए।

takaleef ye nahin ki tumhen azeez koi aur hai, 

dard tab hua jab ham najarandaaj kiye gaye.



बस सह सकता हूं इस दर्द को

कहने को कुछ बचा नहीं है,

उसके जाने के बाद ज़िन्दगी में

अब और कुछ रहा नहीं है।

bas sah sakata hoon is dard ko 

kahane ko kuchh bacha nahin hai, 

usake jaane ke baad zindagi mein 

ab aur kuchh raha nahin hai.



मैं दिन हूं मेरी ज़बीं पर दुखों का सूरज है,

दिये तो रात की पलकों पे झिलमिलाते हैं।

              - बशीर बद्र

main din hoon meri zabeen par dukhon ka sooraj hai, 

diye to raat ki palakon pe jhilamilaate hain. 

                   - basheer badr



लोग मुन्तज़िर ही रहे कि हमें टूटा हुआ देखें,

और हम थे कि दर्द सहते-सहते पत्थर के हो गए।

log muntazir hi rahe ki hamen toota hua dekhen, 

aur ham the ki dard sahate-sahate patthar ke ho gaye.



आँसू भी आते हैं और दर्द भी छुपाना पड़ता है,

ये जिंदगी है साहब यहां जबरदस्ती भी मुस्कुराना पड़ता है।

aansoo bhi aate hain aur dard bhi chhupaana padata hai, 

ye jindagi hai saahab yahaan jabaradasti bhi muskuraana padata hai.



दर्द ही सही मेरे इश्क का इनाम तो आया

खाली ही सही हाथों में जाम तो आया,

मैं हूँ बेवफ़ा सबको बताया उसने

यूँ ही सही, उसके लबों पे मेरा नाम तो आया।

dard hi sahi mere ishq ka inaam to aaya 

khaali hi sahi haathon mein jaam to aaya, 

main hoon bewafa sabako bataaya usane yoon hi sahi, 

usake labon pe mera naam to aaya.



मेरे दर्द का जरा सा हिस्सा लेकर तो देखो,

सदियों तक याद करते रहोगे तुम भी।

mere dard ka jara sa hissa lekar to dekho, 

sadiyon tak yaad karate rahoge tum bhi. 



ख़ामोशी को इख़्तियार कर लेना

अपने दिल को थोड़ा बेक़रार कर लेना,

ज़िन्दगी का असली दर्द लेना हो तो

बस किसी से बेपनाह प्यार कर लेना।

khaamoshi ko ikhtiyaar kar lena 

apane dil ko thoda beqaraar kar lena, 

zindagi ka asali dard lena ho to bas 

kisi se bepanaah pyaar kar lena.



दुआ करना दम भी उसी तरह निकले,

जिस तरह तेरे दिल से हम निकले।

dua karana dam bhi usi tarah nikale, 

jis tarah tere dil se ham nikale. 



उन लोगों का क्या हुआ होगा

जिनको मेरी तरह गम ने मारा होगा,

किनारे पर खड़े लोग क्या जाने...

डूबने वाले ने किस किस को पुकारा होगा।

un logon ka kya hua hoga 

jinako meri tarah gam ne maara hoga, 

kinaare par khade log kya jaane... 

doobane vaale ne kis kis ko pukaara hoga.


Also Read:

gam bhari shayari / dard bhari shayari in hindi


dard bhari shayari in hindi
dard shayari in hindi


फिर यूं हुआ की सब्र की ऊँगली पकड़कर हम,

इतना चले की रास्ते हैरान रह गए...।

phir yoon hua ki sabr ki ungali pakadakar ham, 

itana chale ki raaste hairaan rah gaye.... 



मुझे बहुत प्यारी है 

तुम्हारी दी हुई हर एक निशानी,

अब चाहे वो दिल का दर्द हो 

या आँखों का पानी।

mujhe bahut pyaari hai 

tumhaari di hui har ek nishaanee, 

ab chaahe vo dil ka dard ho

 ya aankhon ka paani.



खामोशियाँ कर दें बयां तो अलग बात है,

कुछ दर्द है ऐसे जो लफ़्ज़ों में उतारे नहीं जाते।

khaamoshiyaan kar den bayaan to alag baat hai, 

kuchh dard hai aise jo lafzon mein utaare nahin jaate.



हमें देख कर जब उसने मुँह मोड़ लिया,

एक तसल्ली हो गयी चलो पहचानते तो हैं।

hamen dekh kar jab usane munh mod liya, 

ek tasalli ho gayi chalo pahachanate to hain.



कहाँ कोई मिला ऐसा जिस पर दिल लुटा देते

हर एक ने धोखा दिया किस किस को भुला देते,

अपने दर्द को अपने दिल ही में दबाये रखा

अगर बयां करते तो महफिलों को रुला देते।

kahaan koi mila aisa jis par dil luta dete 

har ek ne dhokha diya kis kis ko bhula dete, 

apane dard ko apane dil hi mein dabaaye rakha 

agar bayaan karate to mahaphilon ko rula dete.



आँखों में उमड़ आता है बादल बन कर,

दर्द एहसास को बंजर नहीं रहने देता।

aankhon mein umad aata hai baadal ban kar, 

dard ehasaas ko banjar nahin rahane deta.



जरा सी गलतफहमी पर

न छोड़ो किसी अपने का दामन,

क्योंकि जिंदगी बीत जाती है

किसी को अपना बनाने में।

jara si galatfahami par 

na chhodo kisi apane ka daaman, 

kyonki jindagi beet jaati hai

 kisi ko apana banaane mein. 



मुस्कुराने से भी होता है दर्द-ए-दिल बयां,

किसी को रोने की आदत हो ये जरूरी तो नहीं।

muskuraane se bhi hota hai dard-e-dil bayaan, 

kisi ko rone ki aadat ho ye jaroori to nahin.



एक दिन हम भी कफन ओढ़ जायेंगे

सब रिश्ते इस जमीन के तोड़ जायेंगे,

जितना जी चाहे सता लो मुझको

एक दिन रोता हुआ सबको छोड़ जायेंगे।

ek din ham bhi kafan odh jaayenge 

sab rishte is jameen ke tod jaayenge, 

jitana jee chaahe sata lo mujhako 

ek din rota hua sabako chhod jaayenge.



बड़ी हसरत थी कोई हम्हे टूट कर चाहे,

लेकिन हम ही टूट गए किसी को चाहते चाहते।

badi hasarat thi koi hamhe toot kar chaahe, 

lekin ham hi toot gaye kisi ko chaahate chaahate.



वो सिलसिले वो शौक वो ग़ुरबत न रही

फिर यूँ हुआ के दर्द में शिद्दत न रही,

अपनी ज़िन्दगी में हो गए मसरूफ वो इतना

कि हम को याद करने की फुर्सत न रही।

vo silasile vo shauk vo gurabat na rahi 

phir yoon hua ke dard mein shiddat na rahi, 

apani zindagi mein ho gaye masaroof vo itana ki 

ham ko yaad karane ki fursat na rahi.



अपने दिल का हाल किसी को बताया ना करो 

यारो यहां मरहम लगाने वाले कम जख्मो पर, 

नमक छिड़कने वाले ज्यादा है।

apane dil ka haal kisi ko bataaya na karo 

yaaro yahaan maraham lagaane vaale kam jakhmo par,

 namak chhidakane vaale jyaada hai.



जो नजर से गुजर जाया करते हैं

वो सितारे अक्सर टूट जाया करते हैं,

कुछ लोग दर्द को बयां नहीं होने देते

बस चुपचाप बिखर जाया करते हैं।

jo najar se gujar jaaya karate hain 

vo sitaare aksar toot jaaya karate hain, 

kuchh log dard ko bayaan nahin hone dete 

bas chupachaap bikhar jaaya karate hain.


Also Read:

dard bhari shayari | gam bhari shayari | dard sad shayari, quotes, status

dard bhari shayari
dard bhari shayari 


कितना लुत्फ ले रहे हैं लोग मेरे दर्द-ओ-ग़म का,

ऐ इश्क़ देख तूने तो मेरा तमाशा ही बना दिया।

kitana lutf le rahe hain log mere dard-o-gam ka, 

aye ishq dekh toone to mera tamaasha hi bana diya.



हम अपने दर्द का शिकवा तुमसे कैसे करें,

मोहब्बत तो हमने की है तुम तो बेक़ुसूर हो।

ham apane dard ka shikava tumase kaise karen, 

mohabbat to hamane ki hai tum to bequsoor ho.



हम उम्मीदों की दुनियां बसाते रहे

वो भी पल पल हमें आजमाते रहे,

जब मोहब्बत में मरने का वक्त आया

हम मर गए और वो मुस्कुराते रहे।

ham ummeedon ki duniyaan basaate rahe 

vo bhi pal pal hamen aajamaate rahe, 

jab mohabbat mein marane ka wakt aaya 

ham mar gaye aur vo muskuraate rahe.



आज तेरी याद हम सीने से लगा कर रोये

तन्हाई मैं तुझे हम पास बुला कर रोये,

कई बार पुकारा इस दिल ने तुम्हें

और हर बार तुम्हें ना पाकर हम रोये।

aaj teri yaad ham seene se laga kar roye 

tanhai main tujhe ham paas bula kar roye, 

kai baar pukaara is dil ne tumhen 

aur har baar tumhen na paakar ham roye.



रोज़ पिलाता हूँ एक ज़हर का प्याला उसे,

एक दर्द जो दिल में है मरता ही नहीं है।

roz pilaata hoon ek zahar ka pyaala use, 

ek dard jo dil mein hai marata hi nahin hai.



आधा ख्वाब, आधा इश्क़, आधी सी है बंदगी,

मेरे हो पर मेरे नही, कैसी है ये जिंदगी।

aadha khvaab, aadha ishq, aadhi si hai bandagi, 

mere ho par mere nahi, kaisi hai ye jindagi.



आज उस ने एक दर्द दिया तो मुझे याद आया,

हमने ही दुआओं में उसके सारे दर्द माँगे थे।

aaj us ne ek dard diya to mujhe yaad aaya, 

hamane hi duaon mein usake saare dard maange the.



उसने दर्द इतना दिया कि सहा ना गया

उसकी आदत सी थी इसलिए रहा न गया,

आज भी रोती हूं उसे दूर देख के...

लेकिन दर्द देने वाले से यह कहा ना गया।

usane dard itana diya ki saha na gaya 

usaki aadat si thi isaliye raha na gaya, 

aaj bhi roti hoon use door dekh ke... 

lekin dard dene vaale se yah kaha na gaya.



हम तो कुछ देर हँस भी लेते हैं,

दिल हमेशा उदास रहता है।

       - बशीर बद्र

ham to kuchh der hans bhi lete hain, 

dil hamesha udaas rahata hai. 

        - basheer badr


Dard Bhari Shayari (दर्द भरी शायरी)

shayari, dard bhari zindagi hindi
 dard bhari shayari in hindi text


तुम्हें पा लेते तो किस्सा खत्म हो जाता,

तुम्हें खोया है तो यकीनन कहानी लंबी चलेगी।

tumhen pa lete to kissa khatm ho jaata, 

tumhen khoya hai to yakeenan kahaani lambi chalegi.



तकलीफ ये नहीं कि तुम्हें अज़ीज़ कोई और है,

दर्द तब हुआ जब हम नजरंदाज किए गए।

takaleef ye nahin ki tumhen azeez koi aur hai, 

dard tab hua jab ham najarandaaj kiye gaye. 



तुम मेरी लाश पर रोने मत आना

मुझसे बहुत प्यार था ये जताने मत आना,

दर्द दो मुझे जब तक दुनिया में हूं

जब सो जाऊं फिर जगाने मत आना।

tum meri laash par rone mat aana 

mujhase bahut pyaar tha ye jataane mat aana, 

dard do mujhe jab tak duniya mein hoon

 jab so jaoon phir jagaane mat aana.



दर्द से हाथ न मिलाते तो और क्या करते

गम में आँसू न बहते तो और क्या करते,

उसने मांगी थी हमसे रौशनी की दुआ...

हम अपना दिल न जलाते तो और क्या करते।

dard se haath na milaate to aur kya karate 

gam mein aansoo na bahate to aur kya karate, 

usane maangi thi hamase raushani ki dua... 

ham apana dil na jalaate to aur kya karate.



कौन रोता है किसी और की ख़ातिर ऐ दोस्त,

सब को अपनी ही किसी बात पे रोना आया।

          - साहिर लुधियानवी

kaun rota hai kisi aur ki khaatir aye dost, 

sab ko apani hi kisi baat pe rona aaya. 

      - saahir ludhiyaanavi 



सब सो गए अपना दर्द अपनों को सुना के,

कोई होता मेरा तो मुझे भी नींद आ जाती।

sab so gaye apana dard apanon ko suna ke, 

koi hota mera to mujhe bhi neend aa jaati.



चलते रहेंगे काफिले मेरे बाद भी यहाँ,

एक सितारा टूट जाने से फलक तनहा नहीं होता।

chalate rahenge kaafile mere baad bhi yahaan, 

ek sitaara toot jaane se falak tanaha nahin hota.



अगर मोहब्बत की हद नहीं कोई,

तो दर्द का हिसाब क्यूँ रखूं।

agar mohabbat ki had nahin koi, 

to dard ka hisaab kyoon rakhoon.



हक़ीक़त जान लो जुदा होने से पहले

मेरी सुन लो अपनी सुनाने से पहले,

ये सोच लेना भुलाने से पहले

बहुत रोयी हैं ये आँखें मुस्कुराने से पहले।

haqeeqat jaan lo juda hone se pahale 

meri sun lo apani sunaane se pahale, 

ye soch lena bhulaane se pahale 

bahut royee hain ye aankhen muskuraane se pahale.



दर्द मोहब्बत का ऐ दोस्त बहुत खूब होगा,

न चुभेगा, न दिखेगा, बस महसूस होगा।

dard mohabbat ka aye dost bahut khoob hoga, 

na chubhega, na dikhega, bas mahasoos hoga.



दुआ करना दम भी उसी दिन निकले,

जिस दिन तेरे दिल से हम निकले।

dua karana dam bhi usee din nikale, 

jis din tere dil se ham nikale. 



नसीहत अच्छी देती है दुनिया,

अगर दर्द किसी ग़ैर का हो।

naseehat achchhi deti hai duniya, 

agar dard kisi gair ka ho.



हादसे इंसान के संग मसखरी करने लगे

लफ्ज कागज पर उतर जादूगरी करने लगे,

कामयाबी जिसने पाई उनके घर बस गए

जिनके दिल टूटे वो आशिक शायरी करने लगे।

haadase insaan ke sang masakhari karane lage 

lafj kaagaj par utar jaadoogari karane lage, 

kaamayaabi jisane pai unake ghar bas gaye 

jinake dil toote vo aashik shayari karane lage.



कितना दर्द भरा था उनका मुझे छोड़ के जाना

सुना भी कुछ नहीं और कहा भी कुछ नहीं,

कुछ इस तरह बरबाद हुए उनकी मोहब्बत में

लौटा भी कुछ नहीं और बचा भी कुछ नहीं।

kitana dard bhara tha unaka mujhe chhod ke jaana 

suna bhi kuchh nahin aur kaha bhi kuchh nahin, 

kuchh is tarah barabaad hue unaki mohabbat mein 

lauta bhi kuchh nahin aur bacha bhi kuchh nahin.



ग़म सलीके में थे जब तक हम खामोश थे,

जरा जुबान क्या खुली दर्द बे-अदब हो गए।

gam saleeke mein the jab tak ham khaamosh the, 

jara jubaan kya khuli dard be-adab ho gaye.


No comments:
Write comment