Friday, March 20, 2020

पढ़े निराशा में हौसला देने वाली बेहतरीन hausla shayari, quotes | motivational josh shayari

hosla badhane wali shayari नमस्कार दोस्तों- हमें अपने जीवन में सफल होने के लिए अपने आप पर भरोसा होना बहुत जरूरी है, क्योंकि कोई भी काम करने में अगर आपको खुद पर भरोसा नहीं होगा तो आप उस काम में असफल हो जाएंगे 

हम सभी के जीवन में ऐसा समय जरूर आता है जब हम खुद को निराश महसूस करने लगते हैं, और अगर आप अपने जीवन में कुछ बड़ा करना चाहते हैं लेकिन आपके अंदर हौसले की कमी है 

तो इस पोस्ट को पूरा पढ़ें आज के इस पोस्ट में मैं आप लोगों के लिए हौसला और जोश बढ़ाने वाली hausla shayari, josh shayari, sahas shayari लेकर आया हूं 

जो आपके अंदर से निराशा को दूर करके आपके भीतर जोश और उत्साह का संचार करने का काम करेंगे और अगर आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आता है तो इसे अपने मित्रों के साथ भी जरूर शेयर करें 

तो चलिए दोस्तों पेश है hausla shayari, quotes, STATUS,josh wali shayari

hausla shayari, quotes | motivational josh shayari 

hosla shayari
hosla badhane wali shayari


                           

सफलता एक दिन में नहीं मिलती,

मगर ठान लो तो एक दिन ज़रूर मिलती है

safalata ek din mein nahin milati, 

magar thaan lo to ek din zaroor milati hai



                           

यक़ीन हो तो कोई रास्ता निकलता है

हवा की ओट भी ले कर चराग़ जलता है

yaqeen ho to koi raasta nikalata hai 

hava ki ot bhi le kar charaag jalata hai 



                           

हर रोज़ गिर कर भी

मुकम्मल खङे हैं

एै ज़िन्दगी देख,

मेरे हौंसले तुझसे भी बङे हैं

har roz gir kar bhi 

mukammal khade hain 

aye zindagi dekh, 

mere haunsale tujhase bhi bade hain



                           

अहले-दुनिया क्या है और उनका असर क्या चीज है,

हम ख़ुदा से नाज़ करते हैं, बशर क्या चीज है।

ahale-duniya kya hai aur unaka asar kya cheej hai, 

ham khuda se naaz karate hain, bashar kya cheej hai.



                           

हार हो जाती है जब मान लिया जाता है

जीत तब होती है जब ठान लिया जाता है

haar ho jaati hai jab maan liya jaata hai 

jeet tab hoti hai jab thaan liya jaata hai



                           

मेरी मंज़िल मेरे करीब है इसका मुझे एहसास है

गुमान नहीं मुझे इरदों पे अपने

ये मेरी सोच और हौंसलों का भी विश्वास है

meri manzil mere kareeb hai isaka mujhe ehasaas hai 

gumaan nahin mujhe iradon pe apane

 ye meri soch aur haunsalon ka bhi vishvaas hai 



                           

उसे गुमां है कि मेरी उड़ान कुछ कम है

मुझे यक़ीं है कि ये आसमान कुछ कम है

use gumaan hai ki meri udaan kuchh kam hai 

mujhe yaqeen hai ki ye aasamaan kuchh kam hai



                           

हम को मिटा सके ये ज़माने में दम नहीं

हम से ज़माना ख़ुद है ज़माने से हम नहीं

ham ko mita sake ye zamaane mein dam nahin 

ham se zamaana khud hai zamaane se ham nahin



                           

अभी से पाँव के छाले न देखो

अभी यारो सफ़र की इब्तिदा है

abhi se paanv ke chhaale na dekho 

abhi yaaro safar ki ibtida hai



                           

हौसले भी किसी हकीम से कम नहीं होते

हर तकलीफ में ताकत की दवा देते हैं

hausale bhi kisi hakeem se kam nahin 

hote har takaleef mein taakat ki dava dete hain 


संघर्ष हौसला पर शायरी / hosla shayari, josh wali shayari

josh shayari
 sahas shayari


                           

वाक़िफ़ कहां ज़माना हमारी उड़ान से

वो और थे जो हार गए आसमान से

vaaqif kahaan zamaana hamaari udaan se

 vo aur the jo haar gaye aasamaan se



                           

हद से बढ़ जाये ताल्लुक तो ग़म मिलते हैं

हम इसी वास्ते हर शख्स से कम मिलते हैं ।

had se badh jaaye taalluk to gam milate hain 

ham isi vaaste har shakhs se kam milate hain .



                           

ख़्वाब टूटे हैं मगर हौंसले ज़िन्दा हैं

हम वो हैं जहॉ मुश्किलें शर्मिदा हैं

khwab toote hain magar haunsale zinda hain 

ham vo hain jaha mushkilen sharmida hain



                           

हौसले भी किसी हकीम से कम नहीं होते

हर तकलीफ में ताकत की दवा देते हैं

hausale bhi kisi hakeem se kam nahin hote 

har takaleef mein taakat ki dava dete hain



                           

मुसीबत से तू ज्यादा डर या खौफ ना रख, 

तू जीतेगा ज़रूर एक दिन बस आज हौंसला रख।

museebat se tu jyaada dar ya khauf na rakh, 

tu jeetega zaroor ek din bas aaj haunsala rakh.



                           

रास्ता सोचते रहने से किधर बनता है,

सर में सौदा हो तो दीवार में दर बनता है।

raasta sochate rahane se kidhar banata hai, 

sar mein sauda ho to deevaar mein dar banata hai.



                           

हौसलों से मिलता है सफलता का मुकाम,

आसान नहीं है इस दुनिया कमाना नाम।

hausalon se milata hai safalata ka mukaam, 

aasaan nahin hai is duniya me kamaana naam.



                           

तुझमे कुछ बात होगी तभी तो 

सारी दुनिया में तेरी बात होगी, 

कामियाबी का जूनून होगा तो 

मुश्किलों की क्या औकात होगी।

tujhame kuchh baat hogi 

tabhi to saari duniya mein teri baat hogi, 

kaamiyaabi ka joonoon hoga to 

mushkilon ki kya aukaat hogi. 



                           

खुल जाएगा धड़ल्ले से वो दरवाज़ा 

भी जो सदियों से बंद होगा, 

जब तेरी मेहनत बेजोड़ होगी 

और तेरा हौंसला बुलंद होगा।

khul jayega dhadalle se vo darawaza 

bhi jo sadiyon se band hoga, 

jab teri mehanat bejod hogi aur

 tera haunsala buland hoga.



                           

अपने हौंसलों की आग ऐसी रखनी 

होगी की, कामियाबी का लोहा पिघल जाए।

apane haunsalon ki aag aisi rakhani hogi ki, 

kaamiyaabi ka loha pighal jaye.



                           

अपना ज़माना आप बनाते हैं अहल-ए-दिल,

हम वो नहीं कि जिन को ज़माना बना गया।

          -जिगर मुरादाबादी

apana zamaana aap banaate hain ahal-e-dil, 

ham vo nahin ki jin ko zamaana bana gaya. 

        -jigar muradabadi



                           

अटल रह तू बस अपने फैसलों पर

चलता रह मत रख नज़र फासलों पर, 

मंज़िल मिलेगी ज़रूर तुझे तू 

बस टिका रह अपने हौसलों पर।

atal rah tu bas apane faisalon par 

chalata rah mat rakh nazar faasalon par, 

manzil milegi zaroor tujhe tu

 bas tika rah apane hausalon par.



                           

जब तू मेहनत के तराज़ू में 

हौंसला और यकीन रख लेगा, 

यकीन मान तू उस दिन 

स्वाद-ऐ-जीत चख लेगा।

jab tu mehanat ke taraazoo mein 

haunsala aur yakeen rakh lega, 

yakeen maan tu us din 

svaad-e-jeet chakh lega.



                           

गम तो है हर एक को

मगर हौसला है जुदा जुदा,

कोई टूट कर बिखर गया

कोई मुस्कुरा के चल दिया।

gam to hai har ek ko 

magar hausala hai juda juda, 

kou toot kar bikhar gaya 

koi muskura ke chal diya.


hausla shayari, quotes | motivational josh shayari

hosla badhane wali shayari
hosla quotes in hindi


                           

ये कह कर दिल ने मेरे कई दफा हौसलें बढ़ाए हैं, 

ग़मों की धुप के आगे ख़ुशी के साए हैं।

ye kah kar dil ne mere kai dafa hausalen badhaye hain, 

gamon ki dhup ke aage khushi ke saye hain.



                           

कितने भी दलदल हो जिन्दगी में पैर जमाए ही रखना

चाहे हाथ खाली हो जिंदगी में लेकिन उसे उठाये ही रखना,

कौन कहता है छलनी में पानी रूक नहीं सकता

अपना हौसला बर्फ जमने तक बनाये रखना।

kitane bhi daladal ho jindagi mein pair jamae hi rakhana 

chaahe haath khaali ho jindagi mein lekin use uthaaye hi rakhana,

kaun kahata hai chhalani mein paani rook nahin sakata 

apana hausala barf jamane tak banaaye rakhana.



                           

 मिल जाएगी तुझे तेरी खोई हुई पहचान, 

बस तू थोड़ा होश और हौंसला रख।

mil jayegi tujhe teri khoi hui pahachaan, 

bas tu thoda hosh aur haunsala rakh.




                           

हौंसलो की आग धधक रही है निगाहों में, 

अब मुश्किलों में इतना दम 

नहीं की हमे रोक दे राहों में।

haunsalo ki aag dhadhak rahi hai nigaahon mein, 

ab mushkilon mein itana dam 

nahin ki hame rok de raahon mein.



                           

जरूरत पड़ने पर चिड़िया भी बना लेती है घोंसला,

तू भी पा जायेगा अपना मुकाम मन में रख हौसला।

jarurat padane par chidiya bhi bana leti hai ghonsala, 

tu bhi pa jaayega apana mukaam man mein rakh hausala.



                           

वो अक्सर कुछ भी कर लेते हैं, जो 

डर को बहार फेंक अंदर हौंसला भर देते हैं।

vo aksar kuchh bhi kar lete hain, 

jo dar ko bahaar fenk andar haunsala bhar dete hain.



                           

चौंक जाएंगे मेरी उड़ान देख कर 

ऐसा मैं अपना जरिया बदल दूंगा, 

जो मुझे नाकारा समझते हैं एक दिन मैं 

उन सब का नजरिया बदल दूंगा।

chaunk jayenge meri udaan dekh kar 

aisa main apana jariya badal dunga, 

jo mujhe naakaara samajhate hain 

ek din main un sab ka najariya badal dunga. 



                           

उम्मीद वक़्त का सबसे बड़ा सहारा है, 

अगर हौंसला हो तो हर मौज में किनारा है।

ummeed waqt ka sabase bada sahaara hai, 

agar haunsala ho to har mauj mein kinaara hai.



                           

तू शाहीं है परवाज़ है काम तेरा

तेरे सामने आसमाँ और भी हैं

tu shaaheen hai paravaaz hai kaam tera

 tere saamane aasamaan aur bhi hain



                           

हारनेवाले वो होते हैं,

जिनके शब्द उसके कर्म से बड़े हैं,

और जितनेवाले वो हैं

जिनके कर्म उनके शब्द से बड़े होते हैं

harane vaale vo hote hain, 

jinake shabd usake karm se bade hain, 

aur jitane vaale vo hain 

jinake karm unake shabd se bade hote hain


Also Read :

  • ज़िन्दगी बदलने वाले मोटिवेशनल सुविचार | motivational quotes

  • hosla badhane wali shayari / hosla quotes in hindi

    josh wali shayari
    josh shayari


                               

    लोग जिस हाल में मरने की दुआ करते हैं

    मैं ने उस हाल में जीने की क़सम खाई है

    log jis haal mein marane ki dua karate hain 

    main ne us haal mein jeene ki kasam khai hai



                               

    हज़ार बर्क़ गिरे लाख आँधियाँ उट्ठें,

    वो फूल खिल के रहेंगे जो खिलने वाले हैं

           - साहिर लुधियानवी

    hazaar barq gire laakh aandhiyaan utthen, 

    vo phool khil ke rahenge jo khilane vaale hain 

           - saahir ludhiyanavi



                               

    सूरज ढला तो

    कद से ऊँचे हो गए साये,

    कभी पैरों से रौंदी थी,

    यहीं परछाइयां हमने

    sooraj dhala to

     kad se unche ho gaye saaye, 

    kabhi pairon se raundi thi, 

    yaheen parachhaiyaan hamane



                               

    उम्मीदों की कश्ती को डूबोया नहीं करते,

    मंज़िल दूर हो तो थक कर रोया नहीं करते,

    रखते हैं जो दिल में उम्मीद कुछ पाने की,

    वो लोग ज़िंदगी में कुछ खोया नहीं करते

    ummeedon ki kashti ko duboya nahin karate, 

    manzil dur ho to thak kar roya nahin karate, 

    rakhate hain jo dil mein ummeed kuchh paane ki, 

    vo log zindagi mein kuchh khoya nahin karate 



                               

    गुजरती है जो दिल पर, लब पर वो ला ही के क्या होगा,

    समझकर जो न समझे, उसको समझा ही के क्या होगा

    gujarati hai jo dil par, lab par vo la hi ke kya hoga, 

    samajhakar jo na samajhe, usako samajha hi ke kya hoga



                               

    जो तूफ़ानों में पलते जा रहे हैं

    वही दुनिया बदलते जा रहे हैं

     - जिगर मुरादाबादी

    jo tufaanon mein palate ja rahe hain 

    vahi duniya badalate ja rahe hain 

        - jigar muradabadi



                               

    सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है,

    देखना है ज़ोर कितना बाज़ू-ए-क़ातिल में है

    sarafaroshi ki tamanna ab hamaare dil mein hai, 

    dekhana hai zor kitana baazoo-e-qaatil mein hai



                               

    राहें खुश्क हों कितनीं कदम मेरा हर चुस्त हो मौला

    नज़र कमज़ोर बेशक हो नज़रिया दुरुस्त हो मौला

    raahen khushk hon kitani kadam mera har chust ho maula 

    nazar kamazor beshak ho nazariya durust ho maula



                               

    जरुरते तोड देती है इन्सान के घमंड को,

    न होती मजबुरी तो हर बंदा खुदा होता

    jarurate tod deti hai insaan ke ghamand ko, 

    na hoti majaburi to har banda khuda hota


    निडरता पर शायरी / josh shayari, hausla shayari

    hosla badhane wali shayari
    hosla shayari 


                               

    यक़ीन हो तो कोई रास्ता निकलता है

    हवा की ओट भी ले कर चराग़ जलता है

    yaqeen ho to koi raasta nikalata hai 

    hava ki ot bhi le kar charaag jalata hai



                               

    सिमटते जा रहें हैं दिल और ज़ज्बात के रिश्ते,

    सौदा करने मे जो माहिर है, बस वही धनवान है

    simatate ja rahen hain dil aur zajbaat ke rishte, 

    sauda karane me jo maahir hai, bas vahi dhanavaan hai



                               

    अब हवाएँ ही करेंगी रौशनी का फ़ैसला,

    जिस दिए में जान होगी वो दिया रह जाएगा

              - महशर बदायुनी

    ab havaen hi karengi raushani ka faisala, 

    jis diye mein jaan hogi vo diya rah jayega 

             - mahashar badayuni



                               

    सियाह रात नहीं लेती नाम ढलने का

    यही तो वक़्त है सूरज तिरे निकलने का

    siyaah raat nahin leti naam dhalane ka

     yahee to vaqt hai sooraj tere nikalane ka


                               

    डूबे हुओं को हमने बिठाया था और फिर

    कश्ती का बोझ कहकर उतारा हमें गया

    doobe huon ko hamane bithaaya tha 

    aur phir kashti ka bojh kahakar utaara hamen gaya


                               

    वक्त के साथ-साथ बहुत कुछ बदल जाता है,

    लोग भी… रास्ते भी… अहसास भी,

    और कभी- कभी - हम खुद भी.

    wakt ke saath-saath bahut kuchh badal jaata hai, 

    log bhi… raaste bhi… ahasaas bhi, 

    aur kabhi- kabhi - ham khud bhi.



                               

    वक़्त आने दे दिखा देंगे तुझे ऐ आसमाँ,

    हम अभी से क्यूँ बताएँ क्या हमारे दिल में है

              - बिस्मिल अज़ीमाबादी

    waqt aane de dikha denge tujhe aye aasamaan, 

    ham abhi se kya bataen kya hamaare dil mein hai 

           - bismil azeemabadi



                               

    उदासियों की वजह तो बहुत है जिंदगी मे..

    पर बेवजह खुश रहने का मजा ही कुछ और है

    udaasiyon ki vajah to bahut hai jindagi me.. 

    par bevajah khush rahane ka maja hi kuchh aur hai



                               

    रहमत भी है मोहताज तेरी, मेरे गुनाहों की,

    मेरे बग़ैर तू भी ख़ुदा हो नहीं सकता।

    rahamat bhi hai mohataaj teri, 

    mere gunaahon ki, mere bagair tu bhi khuda ho nahin sakata.



                               

    लोग कहते हैं बदलता है ज़माना सब को

    मर्द वो हैं जो ज़माने को बदल देते हैं

    log kahate hain badalata hai zamaana sab ko 

    mard vo hain jo zamaane ko badal dete hain


    Also Read :


    संघर्ष हौसला पर शायरी / hosla quotes in hindi

    hosla quotes in hindi
    hosla badhane wali shayari


                               

    मंज़िलों के ग़म में रोने से मंज़िलें नहीं मिलती,

    हौंसले भी टूट जाते हैं अक्सर उदास रहने से।

    manzilon ke gam mein rone se manzilen nahin milati, 

    haunsale bhi toot jaate hain aksar udaas rahane se.



                               

    साहिल के सुकूँ से किसे इंकार है लेकिन

    तूफ़ान से लड़ने में मज़ा और ही कुछ है

    saahil ke sukoon se kise inkaar hai lekin 

    toofaan se ladane mein maza aur hi kuchh aur hai



                               

    हज़ार ग़म सही दिल में ख़ुशी मगर यह है,

    हमारे होठों पर मांगी हुई हंसी तो नहीं।

    hazaar gam sahi dil mein khushi magar yah hai, 

    hamaare hothon par maangi hui hansi to nahin.



                               

    यूहीं नहीं मिलती राही को मंजिल

    एक जुनून सा दिल में जगाना होता है,

    पूछा चिड़िया से कैसे बनाया आशियाना बोली

    भरनी पङती है उड़ान बार-बार,

    तिनका तिनका उठाना होता है

    yooheen nahin milati raahi ko manjil 

    ek junoon sa dil mein jagaana hota hai, 

    puchha chidiya se kaise banaaya aashiyaana 

    boli bharani panati hai udaan baar-baar, 

    tinaka tinaka uthaana hota hai



                               

    ये कह के दिल ने मेरे हौसले बढ़ाए हैं

    ग़मों की धूप के आगे ख़ुशी के साए हैं

    ye kah ke dil ne mere hausale badhaye hain 

    gamon ki dhoop ke aage khushi ke saye hain 



                               

    तीर खाने की हवस है तो जिगर पैदा कर,

    सरफ़रोशी की तमन्ना है तो सर पैदा कर

    teer khaane ki havas hai to jigar paida kar, 

    sarafaroshi ki tamanna hai to sar paida kar



                               

    चूम लेता हूं हर मुश्किलों को मैं अपना मानकर

    ज़िन्दगी कैसी भी है आखिर है तो मेरी

    choom leta hoon har mushkilon ko main apana maanakar 

    zindagi kaisi bhi hai aakhir hai to meri



                               

    मेरे सीने में नहीं तो तेरे सीने में सही

    हो कहीं भी आग लेकिन आग जलनी चाहिए

              - दुष्यंत कुमार

    mere seene mein nahin to tere seene mein sahi 

    ho kaheen bhi aag lekin aag jalani chaahiye 

               - dushyant kumaar



                               

    जूते फटे पहन आकाश पे चढ़े थे

    सपने हमेशा हमारे औकात से बड़े थे

    joote phate pahan aakaash pe chadhe the 

    sapane hamesha hamaare aukaat se bade the 



                               

    मेरे टूटे हौसले के पर निकलते देख कर

    उस ने दीवारों को अपनी और ऊँचा कर दिया

    mere toote hausale ke par nikalate dekh kar 

    us ne deevaaron ko apani aur uncha kar diya 



                               

    वक़्त की लहरों से टकराते हुए आगे बढ़ जाइए,

    फेर कर मुंह, जिंदगी का सामना मुमकिन नहीं।

    waqt ki laharon se takaraate hue aage badh jaie, 

    fer kar munh, jindagi ka saamana mumakin nahin.



                               

    पलट देते हैं हम मौजे-हवादिस अपनी जुर्रत से,

    कि हमने आँधियों में भी चिराग अक्सर जलाये हैं।

                -रामप्रसाद बिस्मिल 

    palat dete hain ham mauje-havaadis apani jurrat se, 

    ki hamane aandhiyon mein bhi chiraag aksar jalaaye hain. 

                -ramaprasad bismil 



                               

    इस से बेहतर कर दिखायेंगे, हौसले में कमी नहीं,

    एक ख्वाब टूटा है पर कोशिशें थकी नहीं।

    is se behatar kar dikhaayenge, 

    hausale mein kami nahin, 

    ek khvaab toota hai par koshishen thaki nahin.


    Also Read :

    motivational हौसला पर शायरी / hosla shayari

    hosla badhane wali shayari
    hosla quotes in hindi


                               

    बस गिरा हुआ हूँ मरा नहीं हूँ मैं, 

    बस मुसीबतों से घिरा हुआ हूँ डरा नहीं हूँ मैं।

    bas gira hua hoon mara nahin hoon main, 

    bas museebaton se ghira hua hoon dara nahin hoon main.



                               

    वक़्त की गर्दिश का बहाना मत बनाओ, 

    याद रखना हौंसले मुश्किल में ही पलते हैं।

    waqt ki gardish ka bahaana mat banao, 

    yaad rakhana haunsale mushkil mein hi palate hain.



                               

    जब टूटने लगे हौसला तो बस ये याद रखना

    बिना मेहनत के हासिल तख्त-ओ-ताज नहीं होते,

    ढूँढ लेना अँधेरे में ही मंजिल अपनी दोस्तों

    क्योंकि जुगनू कभी रौशनी के मोहताज नहीं होते।

    jab tootane lage hausala to bas ye yaad rakhana 

    bina mehanat ke haasil takht-o-taaj nahin hote, 

    dhoondh lena andhere mein hi manjil apani 

    doston kyonki juganu kabhi raushani ke mohataaj nahin hote.



                               

    तानों की तारे टूट कर तार तार हो जाएगी, 

    मेरी एक जीत से मुझसे जलने वालों की हार हो जाएगी।

    taanon ki taare toot kar taar taar ho jayegi, 

    meri ek jaeet se mujhase jalane vaalon ki haar ho jayegi. 



                               

    अब हवाएँ ही करेंगी रौशनी का फ़ैसला,

    जिस दिए में जान होगी वो दिया रह जाएगा।

    ab havaen hi karengi raushani ka faisala, 

    jis diye mein jaan hogi vo diya rah jayega.



                               

    तू कोशिश तो कर फिर से उड़ान भरने की 

    अपने मरे हुए ख़्वाबों में जान भरने की, 

    तू बस हौंसला रख और मेहनत कर और 

    ठान ले सारी दुनिया में अपना नाम करने की।

    tu koshish to kar fir se udaan bharane ki 

    apane mare hue khvaabon mein jaan bharane ki, 

    tu bas haunsala rakh aur mehanat kar 

    aur thaan le saari duniya mein apana naam karane ki. 



                               

    भँवर से लड़ो तुंद लहरों से उलझो, 

    कहाँ तक चलोगे किनारे किनारे। 

    bhanvar se lado tund laharon se ulajho, 

    kahaan tak chaloge kinaare kinaare. 



                               

    हमारे हौसलें क्या थोड़े से ज़िद्दी हो गए, 

    ये बड़े-बड़े मुसीबतों के पहाड़ हमारे आगे पिद्दी हो गए।

    hamaare hausalen kya thode se ziddi ho gaye, 

    ye bade-bade museebaton ke pahaad hamaare aage piddi ho gaye.



                               

    मुश्किलें दिल के इरादे आजमाती है

    स्वप्न के परदे निगाहों से हटाती है,

    हौसला मत हार गिर कर ऐ मुसाफ़िर

    ठोकरे इंसान को चलना सिखाती है।

    mushkilen dil ke iraade aajamaati hai 

    svapn ke parade nigaahon se hataati hai, 

    hausala mat haar gir kar aye musaafir 

    thokare insaan ko chalana sikhaati hai.



                               

    हर गम ने, हर सितम ने, नया होंसला दिया, 

    मुझको मिटाने वालो ने, मुझको बना दिया।

    har gam ne, har sitam ne, naya honsala diya, 

    mujhako mitaane vaalo ne, mujhako bana diya.



                               

    ख़्वाब सच हो जाएंगे जब 

    तेरी मेहनत सच्ची होगी, 

    जब जान आ जाएगी हौसलों में 

    तो मुसीबत की हर डोर कच्ची होगी।

    khvaab sach ho jayenge 

    jab teri mehanat sachchi hogi, 

    jab jaan aa jayegi hausalon mein 

    to museebat ki har dor kachchi hogi.


    hosla badhane wali shayari / हौसला पर शायरी

    hosla shayari
    hausla shayari 


                               

    आसमान भी मुझसे नीचे उड़ेगा, 

    मेरे हौसलों में इतनी ताक़त है।

    aasamaan bhi mujhase neeche udega, 

    mere hausalon mein itani taaqat hai.



                               

    देखूँगा नहीं मेरे आगे चाहे कठिनाई की 

    लहर या फिर आग का दरिया होगा, 

    तैर कर पार कर लूँगा क्यूंकि 

    ये हौंसला मेरा जरिया होगा।

    dekhoonga nahin mere aage chaahe kathinai ki 

    lahar ya phir aag ka dariya hoga, 

    tair kar paar kar loonga kyoonki 

    ye haunsala mera jariya hoga.



                               

    हौसला बुलंद हो तो मुठ्ठी में हर काम है, 

    मुश्किलें और मुसीबते तो जिन्दगी में आम है।

    hausala buland ho to muththi mein har kaam hai, 

    mushkilen aur museebate to jindagi mein aam hai.



                               

    जिस दिन तू अपने हौसले को हासिल 

    कर लेगा, तू खुद को काबिल कर लेगा।

    jis din tu apane hausale ko haasil kar lega, 

    tu khud ko kaabil kar lega.



                               

    प्यासे रहो न दश्त में बारिश के मुंतज़िर, 

    मारो ज़मीं पे पाँव कि पानी निकल पड़े। 

    pyaase raho na dasht mein baarish ke muntazir, 

    maaro zameen pe paanv ki paani nikal pade.



                               

    लोग ताक में रहते है गिराने के वास्ते,

    खुदा हौसला दे, कुछ कर दिखाने के वास्ते। 

    log taak mein rahate hai giraane ke vaaste, 

    khuda hausala de, kuchh kar dikhaane ke vaaste.



                               

    समझदारों को बस रास्ते मिलते हैं, मंज़िलों 

    पर नाम तो पागलों का ही लिखा जाता है।

    samajhadaaron ko bas raaste milate hain, 

    manzilon par naam to paagalon ka hi likha jaata hai.



                               

    हो सकती है जिन्दगी में मोहोब्बत दोबारा भी, 

    बस होंसला चाहिए फिर से बर्बाद होने का।

    ho sakati hai jindagi mein mohobbat dobaara bhi, 

    bas honsala chaahiye phir se barbaad hone ka.



                               

    ज़रूर सुना होगा की ख़्वाबों ने 

    किसी को सोने नहीं दिया, 

    पर कभी नहीं सुना होगा की अँधेरी 

    रातों ने रोशन सवेरा होने नहीं दिया।

    zaroor suna hoga ki khvaabon ne

     kisi ko sone nahin diya, 

    par kabhi nahin suna hoga ki andheri 

    raaton ne roshan savera hone nahin diya.



                               

    मत करना कोशिश आँधियों 

    हमे अपने संग उड़ाने की 

    मैंने उड़ान घमंड से नहीं हौसलों से भरी है।

    mat karana koshish aandhiyon hame apane sang udaane ki 

    mainne udaan ghamand se nahin hausalon se bhari hai.



                               

    रिश्ते जताने लोग मेरे घर भी आयेंगे

    फल आये है तो पेड़ पर पत्थर भी आयेंगे,

    जब चल पड़े हो सफर को तो फिर हौसला रखो

    सहरा कहीं, कहीं समन्दर भी आयेंगे।

    rishte jataane log mere ghar bhi aayenge 

    fal aaye hai to ped par patthar bhi aayenge, 

    jab chal pade ho safar ko to phir hausala rakho 

    sahara kaheen, kaheen samandar bhi aayenge. 



    1 comment:
    Write comment